Sorry messages

Words will not be able to ever express how sorry I am for this;
And I have profound regret and sorrow for the multitude of mistakes and harm, I have caused!
----------
The four hardest tasks are:
To return love for hate;
To include the excluded;
To forgive without apology;
And to be able to say, "I was wrong"!
----------
A very BIG SORRY to my world!
----------
I wish that I could go back in time and just change all that I have done.
I am truly sorry. Hope you will eventually forgive me.
----------
Don't get confused, SORRY means:
S: Some,
O: One Is,
R: Really,
R: Remembering,
Y: You.
And dear, I'm sorry!
----------
What I did was foolish and totally impulsive.
If i could take it all back, i'd do this so instantly.
I truly didn't mean to hurt you in any way.
I'm sorry for hurting you!
----------
I committed a sin and make you sad;
And am realizing that I am very bad.
So please forgive me to lessen the grief;
Your forgiveness will led to a relief!
----------
The best kind of relationship in the world is the one in which a sorry and a smile can make everything back to normal again!
----------
I don't have the words to make you feel better;
But I do have arms to give you a hug;
and a heart that's aching to see you smile again. I am extremely sorry!
----------
I am sorry is a statement.
I won't do it again is promise.
How do I make it up to you, is a responsibility.
----------
I have committed a sin to make you sad;
And I am realizing that I am very bad.
So please forgive me to lessen the grief;
Your forgiveness will lead to a huge relief.
Forgive me please!
----------
I'm sorry may not mean that much to you... but it means a lifetime of our relationship to me.
Please forgive me!
----------
Too often we don't realize what we have until it's gone;
Too often we're too stubborn to say, "Sorry, I was wrong";
Too often it seems we hurt the ones closest to our hearts;
And we let the most foolish things tear us apart !
----------
Saying 'Sorry' may have become just another 'Word';
But with tears in eyes, it means the 'World' to everybody!
I am sorry!
----------
I am so so so sorry!
Please forgive me for I shall certainly to mend myself!
----------
I am so sorry, my friend... I made you mad.
I am so sorry, darling... for making you sad.
Please forgive me, my babe... and make me glad!
----------
I'm extremely sad and:
1. I'm Sorry!
2. It's entirely my Fault!
3. I shall work to correct my Mistake!
----------
I have committed a sin to make you sad;
Now I realize, I had been pretty bad;
Please forgive me to lessen the grief;
Your forgiveness will be huge relief!
----------
I am sorry now for not being sorry when I should have been sorry when sorry was not the sorry option!
----------
Refusing to forgive someone is like drinking poison;
And waiting for the other person to die.
I am Sorry!
----------
What I did was foolish and impulsive. If I could take it all back I'd have done it the instant I learnt I hurt you.
It was totally unintentional and I'm very sorry for it.
Please forgive me!
----------
An apology is the superglue of life: it can repair just about anything.
I am sorry!
----------
Saying Sorry is not only admitting the mistake. It is surrendering to the love, affection, respect and caring from the bottom of the heart for someone special.
Sorry for hurting you!
----------
Tears are words the heart can't express.
I am Sorry!
----------
Sorry may have become 'Just another Word';
But with tears, it means the world!
----------
I have made some mistakes... you can hit me, scold me or even torture me.
But I'm really sorry and I would do anything to make up for it.
Anything...
----------
Sorry may have become just another word;
But with tears, it means the world.
I am sorry!
----------
I truly am sorry to have hurt you. I never meant it at all.
Please forgive me accept me with my follies!
----------
The best relationship is not the one which is free from problems;
But it's the one where one is sorry and a smile makes everything just as perfect as before.
I hope it's the same with us.
I am sorry!
----------
An apology is the superglue of life. It can repair just about anything.
I am sorry!
----------
If I have ever committed a mistake, forgive my mistake by considering it as a mistake...
And please don't ever forget me even by a mistake!
----------
Always be the 1st to say 'Sorry' when the dear ones get hurt by you;
And be the 1st to forgive if the dear one says 'Sorry'!
----------
Remember the good times we had spent together, and the beautiful future we had dreamt of...
Darling, I never wanted to create a distance between us.
Please give me an opportunity to bridge the gaps in our life!
----------
I have made some mistakes.
You can hit me;
You can scold me;
You can even torture me.
But please forgive me.
I am sorry! I would do anything to make up for it.
Anything...
----------
Love always falls like a rain;
Let forgiveness wash away the pain!
I am SORRY!
----------
It takes a strong person to say sorry, and even a stronger person to forgive.
Be strong always!
----------
Sorry, I mess up;
Sorry, I'm not perfect;
Sorry, I hurt you sometimes;
Sorry, I cry sometimes because I'm afraid of losing you!
----------
My saying sorry to you may not mean a lot to you but it's an acceptance of the fact by me that you mean a life to me. And I care for our relationship.
Please forgive me!
----------
You'd love yourself even after committing so many mistakes. Please replicate it when it comes to me also.
I am SORRY!
----------
Remember all the good times we had spent together; and the beautiful future we had dreamt of...
Darling, I never wanted to create a distance between us. Please, let us bridge the gaps!
----------
S: Sincere Apolgies for
O: Obnoxious
R: Recent
R: Ruthless
Y: Yelling
----------
I don't know how I could have done that thing, when I love you like life itself.
Please forgive me!
----------
कोई गिला कोई शिकवा ना रहे आपसे;
यह आरज़ू है कि सिलसिला रहे आपसे;
बस इस बात की बड़ी उम्मीद है आपसे;
खफा ना होना अगर हम खफा रहें आपसे।
----------
दोस्ती में दूरियां तो आती रहती हैं;
फिर भी दोस्ती दिलों को मिला देती है;
वो दोस्ती ही क्या जिसमे नाराज़गी ना हो;
पर सच्ची दोस्ती रूठे हुए को मना लेती है।
----------
हमसे कोई गिला हो जाये तो माफ़ करना;
याद ना कर पाये तो माफ़ करना;
दिल से तो हम आपको कभी भुलाते नहीं;
पर ये धड़कन ही रुक जाये तो माफ़ करना।
----------
इस कदर हमारा इम्तिहान मत लीजिये;
क्यों हो गए हो ख़फ़ा ये बयां तो कीजिये;
कर दीजिये माफ़ अगर हो गयी है कोई खता हमसे;
यूँ मुँह फेर कर हमसे हमें सज़ा तो मत दीजिये।
----------
भूल से कोई भूल हुई तो
भूल समझ कर भूल जाना;
पर भूलना सिर्फ भूल को;
भूल से भी हमें ना भुला जाना।
----------
कुछ पल में ज़िंदगी की तस्वीर बन जाती है;
कुछ पल में ज़िंदगी की तक़दीर बदल जाती है;
कर दो हमे माफ़ तुम ना होना यूँ हमसे खफा ऐ मेरे दोस्त;
क्योंकि इसी रुस्वाई से पूरी ज़िंदगी बिखर जाती है।
----------
बहुत ही उदास है कोई शख्स तेरे जाने से;
हो सके तो लौट कर आज किसी बहाने से;
भले तू लाख ख़फ़ा हो पर एक बार तो देख ले;
कोई बिखर गया है तेरे रूठ कर जाने से।
----------
चुप रहते हैं हम कि कोई खता न हो जाये;
हमसे यूँ ही कोई रुस्वा न हो जाये;
बड़ी मुश्किल से बना है अपना कोई;
मिलने से पहले ही कोई जुदा न हो जाये।
----------
वो मेरा दोस्त जो खुदा सा लगता है;
दिल के पास है पर फिर भी जुदा सा लगता है;
बहुत दिनों से आया नहीं कोई पैगाम उसका;
शायद किसी बात पे हमसे ख़फ़ा सा लगता है।
----------
खता अगर हमसे हो जाये तो माफ़ करना;
याद ना कर पाये तुम्हें तो माफ़ करना;
यूँ तो हम कभी आपको भूलते नहीं;
पर यह दिल की धड़कन ही थम जाये तो माफ़ करना।
----------
कोई गिला कोई शिकवा न रहे आपसे;
यह रिश्ता हमारा ऐसा ही रहे आपसे;
माफ़ कर देना अगर हो जाये कोई खता हमसे;
ख़फ़ा न होना बस यही फरियाद है आपसे।
----------
इस कदर हमारी चाहत का इम्तिहान न लीजिये;
क्यों हो हमसे ख़फ़ा ये बयां तो कीजिये;
कर दीजिये माफ़ अगर हो गयी है मुझसे कोई खता;
यूँ रूठ कर हमसे हमें सज़ा तो न दीजिये।
----------
दिल के ज़ख्मों को उनसे छुपाना पड़ा;
पलक भीगी थी पर मुस्कुराना पड़ा;
कैसे होते हैं यह मोहब्बत के रिवाज़;
रूठना चाहते थे उनसे, पर उनको ही मनाना पड़ा।
----------
इस कदर हमारी चाहत का इम्तिहान मत लीजिये;
क्यों हो खफा ये बयां तो कीजिये;
कर दीजिये माफ़ अगर हो गयी है कोई खता;
यूँ याद न आकर सज़ा तो न दीजिये।
----------
रूठना मत कभी हमें मनाना नहीं आता;
दूर नहीं जाना हमें बुलाना नहीं आता;
तुम भूल जाओ हमें यह तुम्हारी मर्ज़ी है;
हम क्या करें हमें भुलाना नहीं आता।
----------
चाहो जो मेरी खताओं की सज़ा दो मुझको;
पर खता क्या है, ज़रा इतना बता दो मुझको;
माफ़ कर दो मुझे, मैंने चाहा है सिर्फ तुमको;
इन वफाओं के सिले ऐसी वफ़ा दो मुझको।
----------
आज मैंने से ये वादा किया है;
माफ़ी माँगूंगा उससे जिसको रुस्वा किया है;
हर मोड़ पर रहूँगा मैं उस के साथ-साथ;
मालूम है कि मैंने उसको कितना जुदा किया है।
----------
ऐसा भी क्या कसूर हम ने कर दिया;
कि आपने इस तरह से हमें पराया कर दिया;
माफ़ करना हमारी गलतियों को;
जिनकी वजह से आप ने याद करना कम कर दिया।
----------
हो गए हो नाराज़ ऐसा हमे लगता है;
हो गए हो दूर ऐसा हमे लगता है;
थोड़ा याद हमे भी किया करो यार;
हम अकेले रह गए ऐसा हमे लगता है।
----------
हम रूठें तो किस के भरोसे;
कौन है जो आएगा हमें मनाने के लिए;
हो सकता है तरस आ भी जाए आपको;
पर दिल कहाँ से लाऊँ आपसे रूठ जाने के लिए।
----------
राहों में भी राज़ होता है;
फूलों में भी मिज़ाज़ होता है;
गलतियां हमारी माफ़ करना ऐ-दोस्त;
क्योंकि चमकते चाँद में भी दाग होता है।
----------
सोचता हूँ ज़िंदा हूँ, मांग लूँ सब से माफ़ी;
ना जाने मरने के बाद कोई माफ़ करे या ना करे।
----------
आसमान वीरान है;
तारे भी हैरान हैं;
माफ़ कर दो मेरी चांदनी मुझको;
देखो तेरा चाँद भी तो आंसुओं से परेशान है।
----------
मगरूर रहने वालो, सादगी हम से सीखो;
खुश रहने वालो, उदासी हम से सीखो;
लड़ाई करने वालो, माफ़ी माँगना हम से सीखो।
----------
माना हुई खता हमसे;
पर गलती तो हम सब करते हैं;
इस बार आप भी माफ़ कर दो;
वरना हर बार तो माफ़ी आप ही मांगते हैं।
----------
तुम हँसते हो मुझे हसाने के लिए;
तुम रोते हो मुझे रुलाने के लिए;
तुम एक बार रूठ कर तो देखो;
मर जाएंगे तुम्हें मनाने के लिए।
----------
ना कभी मुस्कुराहट तेरे होंठों से दूर हो;
तेरी हर ख्वाहिश हक़ीकत को मंज़ूर हो;
हो जाए जो तू मुझसे खफा;
खुदा ना करे मुझसे कभी ऐसा कसूर हो।
----------
हमारी हर खता को माफ़ कर देना;
हर गिले हर शिकवे को दिल से साफ़ कर देना;
अकेले ना सहना कोई भी तकलीफ़;
दुःख हो या सुख, आधा-आधा कर लेना।
----------
ये सोच कर हमारी खता को माफ़ कर देना मेरे दोस्त;
क्या पता कल तुम लौट के आओ और हम तुमसे दूर हो जाएं।
----------
दोस्त दोस्त से खफा नहीं होता;
प्यार प्यार से जुदा नहीं होता;
माफ़ कर दो अब तो तुम मुझ को;
क्योंकि इतनी देर तक तो भगवान भी किसी से खफा नहीं होता।
----------
दिल में बसे हो ज़रा ख्याल करना;
अगर वक़्त मिल जाए तो याद करना;
मुझे तो आदत है तुम्हे याद करने की;
तुम्हें अजीब लगे तो माफ़ करना।
----------
भूल से कभी हमें भी याद किया करो;
प्यार नहीं तो शिकायत ही किया करो;
इतनी भी क्या नाराजगी कि बात ही ना करो;
मिलना नहीं तो दिल से ही याद किया करो।
----------
आज कुछ कमी सी है तेरे बगैर;
ना रंग है ना रौशनी है तेरे बगैर;
इतना मत रूठो अब तो माफ़ कर दो मुझे;
क्योंकि धड़कन थम सी गई है तेरे बगैर!
----------
दुआ मांगी थी आशियाने की;
चल पड़ी आँधियाँ ज़माने की;
मेरा दर्द कोई नहीं समझ पाया;
क्योंकि मेरी आदत थी माफ़ करके मुस्कुराने की।
----------
ख़्वाब ना टूटे, दिल ना टूटे;
आप ना हम से रूठें;
बात ना टूटे, साथ ना छूटे;
हमारे बीच का ये फ़ासला तो टूटे!
----------
चुप रहते हैं क्योंकि कोई खफा ना हो जाए;
हमसे कोई रुस्वा ना हो जाए;
बड़ी मुश्किल से पाया है तुम को;
माफ़ कर देना अगर हमसे कभी कोई खता हो जाए!
----------
इस कदर हमारी चाहत का इम्तिहान मत लीजिए;
क्यों हो खफ़ा यह बयां तो कीजिए;
कर दीजिए माफ़ अगर हो गई है कोई ख़ता;
यूँ बात ना कर के सज़ा तो ना दीजिए!
----------
हमसे कोई भूल हो जाए तो माफ़ करना;
याद ना कर पाएं तो माफ़ करना;
दिल से तो हम आपको भूलेंगे नहीं;
यह धड़कन ही रुक जाए तो माफ़ करना।
----------
माफ़ करना अगर हमने अनजाने में आपको कभी रुला दिया;
आप ने तो दुनियां के कहने पर हमें भुला दिया;
हम तो वेसे भी अकेले थे;
क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया!
----------
बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से, हो सके तो लौट आ किसी बहाने से;
तू लाख खफा सही, एक बार तो देख, कोई टूट गया है तेरे रूठ जाने से।
----------
आज मैंने खुद से यह वादा किया है;
माफ़ी मांगूगा उससे जिसको रुसवा किया है;
हर मोड़ पर ही हूँगा मैं उसके साथ साथ;
मालूम है कि मैंने उसको कितना जुदा किया है।
----------
भूल से कोई भूल हुई तो भूल समझ कर भूल जाना;
और भूलना सिर्फ भूल को, भूल से भी हमें न भूल जाना।
----------
कोई अच्छी सी सज़ा दो या न दो मुझको;
तुमसे रिश्ता टूटे उस दिन मौत आ जाए मुझको;
हो सके तो दिल की गहराईयों से माफ़ करना मुझको!
----------
मुझको भी समेट लेगी एक रोज़ उस अंधेरे घर की दहलीज़;
तुमसे गुजारिश है माफ़ कर देना;
उन कांटों को जिसने दिल दुखाया हो तुम्हारा।
----------
हमसे अगर गिला हो जाये तो माफ़ करना;
याद ना कर पाये तो माफ़ करना;
दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं;
पर यह दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना।
----------
तुम हंसती हो मुझे हंसाने के लिए;
तुम रोती हो मुझे रुलाने के लिए;
तुम एक बार रूठकर तो देखो हमसे;
मर जाऊंगा तुम्हें मनाने के लिए।
----------
अपना दोष कभी देखो तो क्षमा नहीं करना, दूसरों का दोष देखो तो हमेशा क्षमा कर देना। अगर आप इन दोनों आदतों को अपनाते है तभी आप जीवन में तरक्की कर सकते हैं।
----------
जितनी जल्दी हो सके दूसरों को उनकी गलतियों के लिए क्षमा कर दो;
यह आप उनके लिए नहीं करेंगे बल्कि अपने जीवन में शांति लाने के लिए करेंगे।
----------
क्षमा करने वाला अपने सारे काम आसानी से कर लेता है।
----------
घृणा करना शैतान का काम है, क्षमा करना मनुष्य का काम है और प्रेम करना देवताओं का गुण है!
----------
माफ़ी मांगने का मतलब यह नहीं होता की आप गलत हैं और दूसरा सही है;
इसका मतलब यह होता है की आप उस रिश्ते की अपने स्वाभिमान से ज्यादा कद्र करते हैं।
----------
सैयां जी माफ़ करना कि गलती मारे से हो गयी।
बहुत बुहत 'सॉरी' है जी।
----------
तुम हंसती हो मुझे हँसाने के लिए;
तुम रोती हो मुझे रुलाने के लिए;
तुम एक बार रूठकर तो देखो;
मर जाऊँगा तुम्हें मनाने के लिए!
----------
इस कदर हमारी चाहत का इम्तिहान मत लीजिये;
क्यों हो खफ़ा, ये बयान तो कीजिये;
कर दीजिये माफ़, अगर हो गई है कोई खता;
यूँ हमें तडपा-तडपा कर सजा तो ना दीजिये।
----------
इस कदर हमारी चाहत का, इम्तिहान मत लीजिये;
क्यों हो खफ़ा, ये बयान तो कीजिये;
कर दीजिये माफ़, अगर हो गई है कोई खता;
यूँ याद न करके, सज़ा तो न दीजिये।
----------
भूल से कोई भूल हुई, तो भूल समझकर भूल जाना;
अरे भूलना सिर्फ भूल को, भूल से भी हमें न भुलाना।