Religious messages

Practice the pause. When in doubt, pause. When angry, pause. When tired, pause. When stressed, pause. And when you pause, pray!
----------
God never sends you in a situation alone. God goes before you. He stands beside you. He walks behind you. Whatever situation you might right now, be confident, God is with you!
----------
No life ever grows great until it is focused, dedicated, and disciplined.
But no life is ever happy until it is lived for the glory of God.
Keep the faith!
----------
Believe that God is at work, behind the scenes.
He'll make all things work for your good!
----------
One good reason we should pray - God can do more in a second than we can do for ourselves in a lifetime!
----------
Don't fear God, fear Karma.
God forgives, but Karma doesn't!
----------
Kar Diya Hai Befikar Tune,
Fikar Ab Main Kaise Karun,
Fikar To Yeh Hai Ki Tera,
Shukar Kaise Karun!
----------
Suffering is due to our disconnection with the inner soul. Meditation is establishing that connection!
----------
Quieten the mind and the soul will speak!
----------
God's 'No' is not a rejection, it's a redirection!
----------
The fruit of silence is prayer;
The fruit of prayer is fait;,
The fruit of faith is love;
The fruit of love is service;
The fruit of service is peace!
----------
Dukh Mein Simran Sab Karein, Sukh Mein Karein Na Koi;
Jo Sukh Mein Simran Karein, Toh Dukh Kahey Hoye!
----------
ਉਸ ਪਰਮਾਤਮਾ ਨੇ ਸਿਰਫ ਇੱਕ ਇਨਸਾਨ ਬਣਾਇਆ ਸੀ ਪਰ ਇੱਕ ਇਨਸਾਨ ਨੇ ਪਤਾ ਨਹੀ ਕਿੰਨੇ ਪਰਮਾਤਮਾ ਬਣਾ ਦਿੱਤੇ।
----------
When you start each day with a grateful heart, light illuminates from within!
----------
Je Tu Na Farda Sadi Banh, Asaan Rul Jana Si;
Saanu Kitey Na Labhdi Thaan, Assan Rul Jaana Si!
Om Sai Ram!
----------
Angels exist but sometimes they don't have wings!and are called friends!
----------
Start the work in the name of God.
Do the work with the help of God.
Finish the work with thanks to God.
Because God decides, gives and makes everything in your life possible.
May God Bless You!
----------
Be mindful of your self-talk. It's a conversation with the universe!
----------
Faith is the ability to see the invisible!
----------
Prayer takes our burdens to God. Belief compels us to leave them there!
----------
Luck is like sand in hands - no matter how firmly gripped or held loosely, it'll sneak through fingers.
Only hands in the praying posture can save it!
----------
Faith is taking the first step... even when you don't see the whole staircase!
----------
Everything is Pre-written but with prayers it can be Re-written!
----------
Turn your worry into worship and watch God turn your battles into blessings!
----------
No matter what your problem is - don't nurse it, don't curse it or don't rehearse it. Just give it to God and He will reverse it!
----------
A bowl of nectar is poisoned by a single drop of poison. In life, sometimes only one Karma poisons all your good Karmas. Be conscious. Surrender your ego and live happily!
----------
I pray and not wish because I have God not a Genie!
----------
Dear God,
Help me spend today with a smile on my face, love in my heart, trust in your name and thinking of you all day.
Amen!
----------
God'll give you things that no other has ever got them from Him;
But only if you give Him what others can't get it from Him!
----------
NAMASTE:
(na-mas-tay)
My soul honors your soul. I honor the place where the entire universe resides. I honor the light, love, truth, beauty, and peace within you, because it is also in me. In sharing these things we are united, we are the same, we are one!
----------
Souls recognize each other by vibes, not by appearances!
----------
Attachment to nature has limits but the attachment to Lord that you develop when the inner eye opens has no limits. Enjoy the reality, not this false picture!
----------
Everything is Pre- written but with prayers it can be Re-written!
----------
God changes:
Sand into pearls;
Coal into diamonds;
And Caterpillars into butterflies.
Using time and pressure, he's working on you, too!
----------
Lord, Keep your arm around my shoulder and your hand over my mouth!
----------
When a train goes through a tunnel and it gets dark, you don't throw away the ticket and jump off. You sit still and trust the engineer.
Trust God, no matter how dark your situation. God says, you are coming out!
----------
Remember, what God removed from your life was not to hurt you but to protect you!
----------
God never sends you into a situation alone. He goes before you. He Stands beside you. He walks behind you.
Whatever situation you have right now, Be confident God is with you!
----------
When we pray:
God hears more than we say,
Answers more than we ask,
Gives more than we imagine,
and in His own time and in His own way!
----------
Whenever you are in a position to help someone, just do it and be glad.
Because God is answering someone's prayers through you!
----------
Sometimes unanswered prayers are the best. You never know what God has in store for you. Keep praying, you never know where God will lead you!
----------
When we pray:
God hears more than we say;
Answers more than we ask;
Gives more than we imagine -
But in His own time and in His own way!
----------
We are the Kites; God has the string!
Sometimes, He pulls us so that we can rise high!
----------
Body is like a Flash Light,
Mind is like a Bulb;
Knowledge is like Battery Cells;
And Soul is like a Switch.
Only when they all work together, do we experience Light!
----------
Always pray to have:
Eyes that see the best;
A mind that forgets the bad;
A heart that forgives the worst;
A soul that never loses faith!
----------
God deposits all that we need in our life like Love, Happiness, Prosperity, Peace, Relations, et al. plus all kinds of Blessings in your ATM account.
One can use draw it without limit.
And its PIN Code is...PRAYER!
----------
Trials keep you Strong!!
Failure keeps you Humble!!
Success keeps you Glowing!!
But only Faith keeps you Going!
----------
Put God first and you will never be last!
----------
The first ever cordless phone was created by God. He named it prayer. It never loses its signal and you never have to recharge it. Use it anywhere!
----------
Pray as everything depends on God;
And work as everything depends on you!
----------
Trials keep us Strong;
Failure keeps us Humble!
Success keeps us Glowing!
But only Faith keeps us Going!
----------
Four blessed ways of living:
1st - Look back and thank God.
2nd - Look forward and trust God.
3rd - Look around and serve God.
4th - Look within and find God!
----------
To fall in love with God is one of the Greatest Romances.
To seek Him the Greatest Adventure.
To find Him the greatest Human Achievement!
----------
It's wonderful when we get answers to our prayers;
But it's even more wonderful when God converts us into an answer of somebody's prayers!
----------
Don't simply thank God for the many blessings you received. Thank Him for He has chosen you to be a bless‌ing to others!
----------
When we put our problems in God's hand, God puts peace in our hearts!
----------
Faith is when you close your eyes and open your heart!
----------
Patience with family is love;
Patience with others is respect;
Patience with self is confidence;
And patience with GOD is faith!
----------
God always has time to listen to our prayers. It's only that we should find time to pray to Him!
----------
We are not human beings going through a temporary ----------experience. We are ----------beings going through a temporary human experience!
----------
Prayer isn't to remind God what your problems are;
But prayer is to remind your problems who God I!
----------
Always put God in the driver's seat of your life because anything under his control will never be out of control!
----------
I'm a failure. He's my forgiver.
I'm a sinner. He's my savior.
I'm broken. He's my healer.
I'm His child. He's my God!
----------
Always listen to your Inner Voice.
It's the only one that ultimately Matters!
----------
If you are stressed and sad, simply pray to God. It shall transform you instantaneously!
----------
Pray as if everything depends on God and work as everything depends on you!
----------  
The fruit of silence is PRAYER.
The fruit of prayer is FAITH.
The fruit of faith is LOVE.
The fruit of love is SERVICE.
The fruit of service is PEACE!
----------
Start the work in the name of God;
Do the work with the help of God;
Finish the work with thanks to God;
Because He decides, gives and makes everything possible!
----------
Prayer is an amazing exchange.
We hand over our worries to God;
And He hands over peace to us!
----------
If things are happening according to your wish, you are lucky;
But if not, then you are very lucky because they are happening as per God's wish.
GOD is our best well wisher!
----------
Sometimes a prayer doesn't change the situation but it changes our attitude towards the situation and give us hope which changes our entire life!
----------
While being spiritual, we know for whom we are praying;
But we never know the person who is praying for us!
----------
Extending one hand to help somebody has more value, than joining two hands for a prayer!
----------
Prayer is a 24 hour open line to God.
No handset required;
No SIM Card problem;
No network or signal error;
No battery or charging issues;
And above all, no billing.
So make PRAYER a habit like Texting!
----------
Asking for FORGIVENESS regularly:
From God
From others
And from your own self cleanses us!
----------
Faith is taking the 1st step... even when one doesn't see the whole staircase!
----------
Extending one hand to help somebody has more value, than joining two hands for prayer!
----------
We really don't know how the food that we eat becomes blood and strengthens our body. In the similar manner, the Holy scriptures strengthen our soul without our realising it.
So let's keep reciting them!
----------
By begging for mercy from God, we don't only ask for God's forgiveness; we simply accept our mistakes which cleanse our soul!
----------
Human beings must be known to be loved;
But divine beings must be loved to be known!
----------
Dear God,
I know that I am not perfect, I know sometimes I forget to pray, I know I have questioned my faith, I know sometimes I loose my temper, but thank you for loving me, unconditionally and giving me another day to start over again!
Amen!
----------
Pray as if everything depends on God;
And work as if everything depends on you!
----------
Satsang is our class;
Sangat are our classmates;
Gurudwara is school;
We all are students;
Gurbani is syllabus;
Simran is an exam;
Sewa is practicals;
Satguru is our teacher;
Waheguru is our examiner;
And Karam is our result!
----------
Every problem or an obstacle takes us closer to God!
----------
God's blessings come as a surprise but how much you receive depends on how much your heart believes!
----------
Prayer is not a spare wheel that one pulls out when in trouble.
It's a steering wheel that keeps us on the right path through the curves of life!
----------
Trusting God won't make the mountain smaller but it will make climbing easier!
----------
When life knocks you down on your knees, just remember you are in a Perfect Position to Pray!
----------
Main Kuch Vi Nahi Waheguru Tere Bina;
Tu Saar Hai Meri Kahani Da;
Tera Wajood Samundran To Wadh Ke;
Main Ta Bus Tupka Haan Ik Paani Da!
----------
Madness in Art is Creation.
Madness in Philosophy is Wisdom.
Madness in the search of God is Worship!
----------
God without man is still God. Man without God is nothing!
----------
Love is intoxicating, it gives divine pleasure when your beloved is God!
----------
Prayer changes things and worry changes nothing.
So instead of worrying about what you can do, just pray and think of what GOD can do for you!
----------
Jab Teri Rehmat Meri Nazar Jaati Hai;
Mere Rab Ji, Meri Aakhein Bhar Aati Hain;
Tu De Raha Hai Mujhe Iss Kadar;
Ki Haath Dua Mein Uthne Se Pehle Hi Jholi Bhar Jaati Hai!
----------
Time is still the best answer;
Forgiveness is still the best pain killer;
And God is still the best healer!
----------
Gayatri Mantra:

ॐ भूर्भुवः॒ स्वः ।
तत्स॑वितुर्वरे॑ण्यं ।
भ॒र्गो॑ दे॒वस्य॑ धीमहि। ।
धियो॒ यो नः॑ प्रचो॒दया॑त्॥ ।

God is dear to me like my own breath;
He is the dispeller of my pains, and giver of happiness.
I meditate on the supremely adorable Light of the Divine Creator, that it may inspire my thought and understanding!
----------
Look back and thank God. Look forward and trust God. He closes doors no man can open and he opens doors no man can close!
----------
God is:
Above you to bless you;
Below you to support you;
Before you to guide you;
Behind you to protect you;
Beside you to comfort you;
And inside you to develop you.
May God bless you!
----------
Each day I thank God for:
Nights that turned into mornings;
Friends that turned into family;
Dreams that turned into reality;
And likes that turned into love!
----------
Prayer does not change God;
But it changes those who pray!
----------
Prayer is the best antivirus in the world It protects the windows of our life from fatal viruses of sorrow, gloom, sins and hopelessness.
So update your antivirus daily for a blissful living!
----------
Sometimes you just have to bow your head, say a prayer, and weather the storm!
----------
Prayer should never be your last resort, it should be your first response!
----------
The first ever "Cordless Phone" created by God is a 'Prayer'.
It never loses its signal and one has never to buy it or recharge it. Moreover, it can be used anytime and anywhere...
----------
Today be thankful to God because you're so rich.
Your family is priceless;
Your time is gold;
And your health is wealth!
----------
God didn't promise:
Days without Pain;
Laughter without Sorrow;
Sun without Rain;
But He did promise:
Strength for the Day;
Comfort for the Tears;
And light for the way!
----------
God designs what we go through in life, but we decide how we go through it. In anything and everything the best plan begins and ends with a Prayer.
----------
GAYATRI MANTRA:

Oṃ Bhūr Bhuvaḥ Svaḥ
Tat Savitúr Vareṇ(i)yaṃ
Bhargo Devasya Dhīmahi
Dhíyo Yó Naḥ Pracodayāt!

Meaning:
God is dear to me like my own breath. He is the dispeller of my pains, and giver of happiness.
I meditate on the supremely adorable Light of the Divine Creator, that it may inspire my thought and understanding!
~ Vishvamitra,
Rigveda (3.62.10)
----------
It is wonderful to get the answer of prayers;
But it is even more wonderful when God converts you into an answer of somebody's prayers!
----------
Always trust in God as we can only see a little bit down the road; but God can see around every curve!
----------
God designs what we go through in life, but we decide how we go through it. In anything and everything the best plan begins and ends with a Prayer!
----------
Difficulties are an attempt by God to change our minds;
But prayers are an attempt by us to change God's mind!
----------
Dear God,
No matter what happens, give me the heart that is willing to obey you whatever the cost may be.
Love,
Me.
----------
Prayer is not an attempt to change God's mind;
But it is an attempt to let God change our mind!
----------
When life is tough - Pray;
When life is great - Pray!
----------
God is not the sole author of our destiny. We are also the co-authors of our destiny. If we do our best, HE will do the rest!
----------
Only God can turn
A mess into a message;
A test into a testimony;
A trial into a triumph;
And a victim into a victor!
----------
We all are tourists & GOD is our travel agent, who has already fixed;
All Routes, Reservation & Destinations;
So trust him & enjoy the trip named life.
----------
When you pray for others;
God listens to you and blesses them;
And sometimes, when you are safe and happy;
Remember that someone has prayed for you.
----------
Coincidence is God's way of remaining anonymous!
----------
Miracles happen to those who believe. A miracle can and will happen any time. Till then, accept God's will and take life as it comes!
----------
God is the ultimate bridge between:
Jealousy and Contentment
Anger and Happiness
Greed and Generosity
Sins and Virtues
Find Him inside you to seek the path of spirituality!
----------
Even Kings and emperors with heaps of wealth and vast dominion cannot compare with an ant filled with the love of God.
----------
Your relationship with God is more important than anything;
Because you know for sure, that it's a relationship that will last forever!
----------
PRAYER is a state of mind, where an amazing EXCHANGE happens.
We hand over our worries to GOD and He hands over His blessings to us!
----------
Prayer is not a spare wheel that you pull out when in trouble;
But it is a steering wheel that directs the right path throughout life!
----------
We're like tea bags, whose true strength comes out when we are put in hot water. So when problems upset you, just think that you must be God's favourite cup of tea!
----------
Always trust God with one's Life...
After all, He gave it to us!
----------
Pray to GOD for BMW at all times.
Bless My Work;
Bring Me Wisdom;
Burn My Worries!
Let all of us drive a BMW in life!
----------
Those who joyfully leave everything in God's hand will eventually see God's hand in everything. Worries end where faith begins.
----------
One should believe in God like how one believes in the Sun. Not because one can see it but one can see everything, because of it!
----------
When your problems are big and your strength is no longer enough to sustain you till the end, do not give up; because where your strength ends, the grace of God begins!
----------
Faith is like Wi-Fi...
It's invisible; but it has the power to connect you to the one who has everything that you need!
----------
The best helping hands are at the end of your own arms. When you can't handle things, put those hands together and pray to God!
----------
When one gets up in the morning, one must thank God for the light, for the life and for the strength.
One also must thank Him for the food and for the joys of living.
If one fails to thank God, the fault lies within oneself.
----------
God has perfect timing;
Never early, never late;
It takes a little patience and faith;
But it's worth the wait!
----------
No one will manufacture a lock without a key.
Similarly, God won't give problems without solutions.
----------
Pray not because you need something;
But because you have a lot to thank God for!
----------
What's the fastest thing on earth?
Light?
Sound?
.
..
No. It's the PRAYER; bcoz it reaches GOD even before one says it.
----------
The shortest distance between a problem and its solution is the distance between your knees and the floor. The one who kneels to God can stand up to anything and anyone!
----------
I and GOD are alike;
He forgets my mistakes I forget His blessings!
----------
Don't enjoy when others are in TROUBLE!
Otherwise GOD may get confused and give the same trouble to you thinking that you enjoy that particular situation. As God gives what you enjoy!
----------
I thank God for stitching beautiful people like you into the fabric of my life;
Their colorful patterns and personalities add richness & ambition to my life.
----------
Dear God,
Thank you for today, yesterday and tomorrow;
My family, my joys and my sorrows;
And for all that made me thorough.
----------
God, grant me the serenity to accept the things I cannot change;
Courage to change the things I can;
And wisdom to know the difference.
----------
Jealousy is when you count someone else's blessings instead of yours.
----------
God has deposited Love, Joy, Prosperity, Peace, Laughter and all kinds of blessings in your bank account. The ATM PIN to withdraw without any limit is PRAYER!
----------
God is not the sole author of our destiny;
We are also the co-authors of our destiny;
If we do the best, He will do the rest!
----------
Dear God,
Thank you for today, yesterday and tomorrow;
My family, my joys and my sorrows;
For all that made me stronger.
----------
When we work,we work;
But when we pray, GOD works!
----------
Remember, if yesterday didn't end up the way you planned, God created today for you to start a new one.
----------
Two places are best to stay in this world.
In someone's heart
or
In someone's prayers!
----------
Turn to God before you return to God!
----------
No one makes a lock without a key. That's why God won't give you problems without solutions.
----------
When one prays for others, God listens and blesses them.
Sometimes when one is safe and happy, one must remember that someone somewhere had prayed for them!
----------
Loud voice of
Aarti in Temple,
Namaaz in Masjid,
Prayer in Church,
is heard by people,
not by God.
GOD hears the silent voice which comes from core of heart.
----------
In this world of
e-mail,
e-paper,
e-recharge and
e-transfer
Never forget
E-eshwar (God)
who makes e-verything e-asy for e-veryone on e-veryday!
----------
Whenever you are in a condition to help someone just do it and be glad because God is answering someone's prayers through you.
----------


प्रभु से यह मत कहो कि समस्या विकट है;
बल्कि समस्या से कह दो कि मेरे प्रभु मेरे निकट हैं।
----------  
ऐ माँ नवाज दे उन्हें तू तेरी महर से,
जिन्होंने देखा नहीं दुनिया को दुनिया की नजर से,
जिनके चहरे की मासूमियत तेरे वजूद की गवाह है,
जिनको रहती है उम्मीद बस तेरे ही दर से।
----------  
मेरी दीवानगी का उधार 'श्याम' तुझे चुकाने की जरुरत नही है,
मैं तुझे देखता हूँ और किश्तें अदा हो जाती है।
----------  
कन्हैया इतना प्यार भी ना करो कि बिखर जाऊँ मैं;
थोड़ा रूठा भी करो कि सुधर जाऊँ मैं;
अगर हो जाये खता तो हो जाना खफा;
पर इतना भी ना होना कि मर ही जाऊँ मैं।
----------  
आत्मा को निरंतर साफ करते रहें,
दुनिया को निरंतर माफ़ करते रहें,
परमात्मा को निरंतर याद करते रहें।
----------  
कैसे शुक्र करूँ तेरी रहमतों का ए खुदा,
मुझे माँगने का सलीका नही हैं, पर तू देने की हर अदा जानता है।
----------  
ज़िन्दगी हसीन है ज़िन्दगी से प्यार करो,
हो रात तो सुबह का इंतज़ार करो,
वो पल भी आएगा, जिस पल का इंतज़ार है आपको,
बस रब पे भरोसा और वक़्त पे ऐतबार करो।
----------  
दौलत छोड़ी दुनिया छोड़ी सारा खज़ाना छोड़ दिया;
सतगुरु के प्यार में दीवानों ने राज घराना छोड़ दिया;
दरवाज़े पे जब लिखा हमने नाम हमारे सतगुरु का;
मुसीबत ने दरवाज़े पे आना छोड़ दिया।
----------  
भगवान कहते हैं,
'तलाश ना कर मुझे ज़मीन-ओ-आसमान की गर्दिशों में, अगर तेरे दिल में नहीं तो कहीं नहीं हूँ मैं।'
----------  
कान्हा तेरे वादे तू ही जाने, मेरा तो आज भी वही कहना है,
जिस दिन साँस टूटेगी, उस दिन ही तेरी आस छूटेगी।
----------
'श्याम' से मोहब्बत कोई बारिश का नाम नहीं
जो बरसे और थम जाए।
'श्याम' से मोहब्बत सूरज भी नहीं
जो चमके और डूब जाए।
'श्याम' से मोहब्बत तो नाम है सांस का
जो चले तो जिदंगी चले और रूके तो मौत बन जाए।
जय जय श्री राधे - हरे कृष्णा!
----------  
मुझे अक्ल उतनी ही देना मेरे साहिब,
कि कभी दखल ना कर सकूँ तेरी रज़ा में।
----------  
सुख मै बहु संगी भए दुख मै संगि न कोई।।
कहु नानक हरि भजु मना अंति सहाई होई।।
----------  
तू नहीं तेरे अंदर बैठे रब्ब से मोहब्बत है मुझे,
तू तो बस एक जरिया है मेरी इबादत का।
----------  
तेरी मोहब्बत में साँवरे एक बात सीखी है,
तेरी भक्ति के बिना ये सारी दुनिया फीकी है,
तेरा दर ढूंढ़ते - ढूंढ़ते ज़िन्दगी की शाम हो गयी,
जब तेरा दर देखा मेरे साँवरे तो ज़िंदगी ही तेरे नाम हो गयी।
बोलो राधे राधे!
----------  
सतगुरु हैं तो बसंत है;
सतगुरु नहीं तो बस अंत है।
----------  
आँधियों से न बुझूं ऐसा उजाला हो जाऊँ;
तू नवाज़े तो जुगनू से सितारा हो जाऊँ;
एक बून्द हूँ मुझे ऐसी फितरत दे मेरे मालिक;
कोई प्यासा दिखे तो दरिया हो जाऊँ।
----------  
उम्र और ज़िंदगी में फर्क बस इतना है जो गुरु बिन बीती वो उम्र,
जो गुरु के साथ बीती वो ज़िंदगी।
----------  
बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलया कोये।
जो मन खोजा आपना, तो मुझसे बुरा न कोये।।
----------  
भीगने का अगर शौक हो तो आकर वाहेगुरू के चरणों में बैठ जाना,
ये बादल तो कभी कभी बरसते हैं, मगर मेरे वाहेगुरू की कृपा हर पल बरसती है।
----------  
हे मेरे दाता हम अगर वो न कर सके जो आप चाहते हैं,
तो कम से कम हमें इतनी समझ ज़रूर देना,
कि हम वो तो कतई न करें जो आप कभी नहीं चाहते हैं।
----------  
धनगुरु नानक रखी लाज,
किसी दे ना होविये मोहताज़,
सानु बस तेरी ही आस,
सतगुरु रखना चरना दे पास।
----------  
इंसान मायूस इसलिए होता है क्योंकि वह परमात्मा को राज़ी करने की बजाये लोगों को राज़ी करने में लगा रहता है।
वह भूल जाता है कि रब राज़ी तो सब राज़ी।
----------  
साधू कहावन कठिन है, लम्बा पेड़ खजूर।
चढ़े तो चखे प्रेम रस, गिरे तो चकनाचूर।
~Sant Kabir Das
----------  
ज़रूरी नहीं कि हर समय लबों पर भगवान का नाम आये,
वो लम्हा भी भक्ति से कम नहीं जब इंसान इंसान के काम आये।
----------  
स्वर्ग का सपना छोड़ दो,
नरक का डर छोड़ दो,
कौन जाने क्या पाप, क्या पुण्य,
बस किसी का दिल न दुखे अपने स्वार्थ के लिए,
बाक़ी सब कुदरत पर छोड़ दो।
----------  
हे प्रभु,
मनुष्य होना मेरा भाग्य है -
पर आप से जुड़े रहना मेरा सौभाग्य है।
----------  
भगवान के नाम पर काम शुरू करो।
भगवान की मदद के साथ काम करो।
भगवान को धन्यवाद के साथ काम संपूर्ण करो।
क्योंकि भगवान ही फैसला करता है, वही सब कुछ देता है और आपके जीवन में सब कुछ संभव बना देता है।
----------  
ज़रूर कोई तो लिखता होगा कागज़ और पत्थर का भी नसीब;
वरना यह मुमकिन नहीं कि कोई पत्थर ठोकर खाए और कोई पत्थर भगवान बन जाये,
और कोई कागज़ रद्दी और कोई कागज़ गीता और कुरान बन जाये।
----------  
सेवा करनी है तो, घड़ी मत देखो !
लंगर छ्कना है तो, स्वाद मत देखो !
सत्संग सुनाना है तो, जगह मत देखो !
बिनती करनी है तो, स्वार्थ मत देखो !
समर्पण करना है तो, खर्चा मत देखो !
रहमत देखनी है तो, जरूरत मत देखो !!
----------
बिना माँगें इतना दिया दामन में मेरे समाया नही;
जितना दिया प्रभु ने मुझको उतनी तो मेरी औकात नही;
यह तो करम है उनका वरना मुझ में तो ऐसी बात नही।
----------  
"दु:ख" और "तकलीफ" भगवान की बनाई हुई वह प्रयोगशाला है,
जहां आपकी काबलियत और आत्मविश्वास को परखा जाता है।
----------  
गोपाल सहारा तेरा है,
नंदलाल सहारा तेरा है,
तू मेरा है मैं तेरा हूँ,
मेरा और सहारा कोई नहीं,
तू माखन चुराने वाला है,
तू चित को चुराने वाला है,
तू गौयें चराने वाला है,
तू बंसी बजाने वाला है,
तू रास रचाने वाला है।
तेरे बिन मेरा और सहारा कोई नहीं।
----------  
वो अक्सर मुझे अपने दर पर बुलाते हैं,
कभी चुपके से अपने दर्शन दे जाते हैं,
कैसे करूँ शुक्राना उस रब का,
जो माँगने से पहले झोलियाँ भर जाते हैं।
----------  
जरूरी नहीं कि लब पर हर समय परमात्मा का नाम आये,
वो समय भी भक्ति का होता है जब इंसान इंसान के काम आये।
----------  
जो केवल अपना भला चाहता है वो दुर्योधन है, जो अपनों का भला चाहता है वो युधिष्ठिर है, और जो सबका भला चाहता है वो श्री कृष्ण हैं। कर्म के साथ साथ भावनायें भी महत्त्व रखती हैं।
----------  
रात को मैं उठ न सका "साँवरे" दरवाजे पर किसी की दस्तक से,
सुबह होते ही बहुत रोई मैं, "कन्हैया" तेरे पैरों के निशान देख कर।
----------  
किसी को भी ना तूँ सतगुरु उदास रखना;
सबको अपने चरणो के दाता पास रखना;
गम ना आयेँ किसी को भी मेरे सतगुरु,
तूँ नजरे-करम सब पर ही खास रखना।
----------  
जहाँ निरंकार है, वहाँ अहंकार नहीं,
और जहाँ अहंकार है वहाँ निरंकार नहीं होता,
अपने आप को मिटने जैसी कोई जीत नहीं,
और अपने आप को सब कुछ समझने जैसी हार नहीं।
----------  
पता नहीं क्या जादू है गुरु के चरणों में,
जितना झुकता हूँ उतना ही ऊपर जाता हूँ।
----------  
कर दिया है बेफिक्र तूने फ़िक्र अब मैं कैसे करूँ;
फ़िक्र तो यह है कि तेरा शुक्र कैसे करूँ!
----------  
ढूंढा सारे संसार में पाया पता तेरा नहीं;
जब पता तेरा लगा, अब पता मेरा नहीं।
----------  
इश्क़ और इबादत में इतना ही अंतर है कि एक की याद तकलीफ देती है और दूसरे की याद तकलीफ में ही आती है।
----------  
जैसे दूध में चावल मिलाने से खीर बनती है,
वैसे ही सतगुरु के चरणों में झुकने से तक़दीर बनती है।
----------  
खुशियाँ मिलती नहीं मांगने से;
मंजिल मिलती नहीं राह पे रूकने से;
हमेशा भरोसा रखना उस ऊपर-वाले पर;
वो हर नयामत देता है, सही वक़्त आने पर।
----------  
कल रात मेरी आँख से आँसू निकल पडा।
मैंने पूछा, "तू बाहर क्यों आया?"
उसने कहा, "तेरी आँखों में सतगुरु इस कदर समाये हैं कि मैं अपनी जगह ना बना पाया।"
----------  
प्रार्थना और ध्यान इंसान के लिए बहुत ज़रूरी हैं;
प्रार्थना में भगवान आपकी बात सुनते हैं,
और ध्यान में आप भगवान की बात सुनते हैं।
----------  
जहाँ बस्ता है खुशियों का संसार;
जहाँ मिलता है सबको एक जैसा प्यार;
जहाँ होती है मुक्ति के द्वार की शुरुआत;
वो कुछ और नहीं, वो है हमारे प्यारे सतगुरु का दरबार।
----------  
मेरी औकात से बढ़ कर मुझे कुछ ना देना मेरे मालिक,
क्योंकि रौशनी भी अगर ज़रूरत से ज्यादा हो तो इंसान को अँधा बना देती है।
----------  
दौलत छोड़ी दुनिया छोड़ी सारा खज़ाना छोड़ दिया;
सतगुरु के प्यार में दीवानों ने राज घराना छोड़ दिया;
दरवाज़े पे जब लिखा हमने नाम हमारे सतगुरु का;
मुसीबत ने दरवाज़े पे आना छोड़ दिया।
----------
तेरी रज़ा में सतगुरु रहना आ जाये;
दुनिया जो भी कहे सहना आ जाये;
ऐसी दो शक्ति हमें ऐ मालिक;
खुद चिराग बन कर जलना अ जाये।
----------  
नींद नहीं आती अपने गुनाहों के डर से "अल्लाह",
फिर सुकून से सो जाता हूँ ये सोच कर कि तेरा एक नाम "रहीम" भी तो है।
----------  
तेरी मेहर पर शक नहीं है मेरे सतगुरु,
मैं तेरे रहम के काबिल हूँ, इस बात पर शक है मुझे।
----------  
भगवान से यह मत कहो कि समस्या विकट है;
बल्कि समस्या से कह दो कि मेरे भगवान मेरे निकट हैं।
----------  
दिल कभी ना लगाना दुनिया से दर्द पाओगे,
बीती बातें याद करके रोते ही जाओगे,
करना ही है तो करो सत्संग, सेवा और सिमरन,
हमेशा उम्मीद से दोगुना पाओगे।
----------  
कौन कहता है कि परमात्मा नज़र नहीं आता,
एक वही तो नज़र आता है जब कुछ नज़र नहीं आता।
----------  
ज़मीन पे सुकून की तलाश है;
मालिक तेरा बंदा कितना उदास है;
क्यों खोजता है इंसान राहत दुनिया में;
हर मसले का हल तेरी अरदास है।
----------  
आँधियों से न बुझूं ऐसा उजाला हो जाऊँ;
तू नवाज़े तो जुगनू से सितारा हो जाऊँ;
एक बून्द हूँ मुझे ऐसी फितरत दे मेरे मालिक;
कोई प्यासा दिखे तो दरिया हो जाऊँ।
----------  
कर दिया है बेफिक्र तूने, फ़िक्र अब मैं कैसे करूँ;
फ़िक्र तो यह है कि तेरा शुक्र कैसे करूँ।
----------  
ज़रूर कोई तो लिखता होगा कागज़ और पत्थर का भी नसीब;
वरना यह मुमकिन नहीं कि कोई पत्थर ठोकर खाए और कोई पत्थर भगवान बन जाये,
और कोई कागज़ रद्दी और कोई कागज़ गीता और कुरान बन जाये।
----------  
जीवन में पीछे देखो 'अनुभव' मिलेगा;
जीवन में आगे देखो तो 'आशा' मिलेगी;
दायें - बायें देखो तो 'सत्य' मिलेगा;
स्वयं के अंदर देखो तो 'परमात्मा' और 'आत्मविश्वास' मिलेगा।
----------  
जो कुछ भी मैंने खोया वह मेरी नादानी थी,
और जो कुछ भी मैंने पाया वह रब की मेहरबानी थी।
----------  
हम और हमारे ईश्वर दोनों एक जैसे हैं।
जो रोज़ भूल जाते हैं...
वो हमारी गलतियों को, हम उसकी मेहरबानियों को।
----------  
सतगुरु के पास प्यार का खज़ाना है,
पर कर्मों का हिसाब तो चुकाना है;
सतगुरु का सिमरन भूलना ना कभी,
क्योंकि सिमरन के जरिये ही सतगुरु को पाना है।
----------  
तुझे क्या कहूँ मेरे शहंशाह तेरे सामने मेरा हाल है,
तेरी एक निगाह की बात है, मेरी ज़िन्दगी का सवाल है।
----------  
जय श्री कृष्णा,
दुनिया से हर बाज़ी जीत कर मशहूर हो गए,
इतना मुस्कुराये कि आँसू दूर हो गए,
हम काँच थे दुनिया ने हमको फेंक दिया था,
मगर बिहारी जी के चरणों में आये तो कोहिनूर हो गए।
----------  
कोई तो है मेरे 'अंदर' मुझे संभाले हुए,
'बेकार' सा रह कर भी 'बरक़रार' हूँ।
----------  
दीर्घ आयु के लिए खुराक आधी करें,
पानी दोगुना करें,
व्यायाम तिगुना करें,
हँसना चौगुना करें,
और भगवान का ध्यान सौगुना करें।
----------  
जिस दिन हमारा मन परमात्मा को याद करने और उसमे दिलचस्पी लेना शुरू कर देगा,
उस दिन हमारी परेशानियां हम में दिलचस्पी लेना बंद कर देंगी।
----------  
जो बिगड़ी गाड़ियाँ सुधारे, वो मैकेनिक;
जो बिगड़ी मशीनें संवारे, वो इंजीनियर;
जो बिगड़े शरीरों को सुधारे, वो डॉक्टर;
जो बिगड़े मुक़द्दर संवारे, वो परमात्मा।
----------  
मैं हर बार आजमाता हूँ कि ईश्वर है कि नहीं,
पर उसने एक बार भी सबूत नहीं माँगा कि मैं इन्सान हूँ कि नहीं।
----------  
श्रद्धा और विश्वास ऐसी जड़ी बूटियाँ हैं कि जो एक बार घोल कर पी लेता है वह चाहने पर मृत्यु को भी पीछे धकेल देता है।
----------  
बिना माँगें इतना दिया दामन में मेरे समाया नही;
जितना दिया प्रभु ने मुझको उतनी तो मेरी औकात नही;
यह तो करम है उनका वरना मुझ में तो ऐसी बात नही।
----------  
क्यों इतना वक़्त गुज़ारते हो देखते हुए खुद को "आईने" में;
कुछ वक़्त बैठो प्रभु के सामने खूबसूरत हो जाओगे सही "मायने" में।
----------  
जब तेरी रहमत पर मेरी नज़र जाती है, मेरी आँखें भर आती हैं;
तू दे रहा है मुझे इस क़दर कि हाथ दुआ में उठने से पहले ही झोली भर जाती है।
----------  
जब दुआ और कोशिश से बात ना बने,
तो फैसला भगवान पर छोड़ दो, भगवान अपने बन्दों के बारे में बेहतर फैसला करते हैं।
----------  
परमात्मा का सिमरन ज़ुबान की हरकत ही नहीं रूह की पुकार भी है।
----------  
भग़वान कहते हैं,
"तलाश ना कर मुझे ज़मीन-ओ-आसमान की गर्दिशों में अगर तेरे दिल में नहीं हूँ तो कहीं नहीं हूँ मैं।"
----------  
जब तेरी रहमत पर मेरी नज़र जाती है;
ऐ मेरे मालिक मेरी आँखें भर आती हैं;
तू दे रहा है मुझे इस क़दर कि;
हाथ दुआ में उठने से पहले ही झोली भर जाती है।
----------  
किसी ने ईश्वर से कहा, "मैं ज़िन्दगी से घृणा करता हूँ।"
ईश्वर ने कहा, "तुमसे किसने कहा कि ज़िन्दगी से प्यार करो। तुम तो बस उसे चाहो जो तुम्हें चाहता हो, ज़िन्दगी अपने आप खूबसूरत हो जाएगी।"
----------  
प्रार्थना और ध्यान इंसान के लिए बहुत ही ज़रूरी है,
प्रार्थना में भगवान आपकी सुनते हैं और ध्यान में आप भगवान की बात सुनते हैं।
----------  
जीवन में पीछे देखो, अनुभव मिलेगा
जीवन में आगे देखो तो, आशा मिलेगी
दायें-बायें देखो तो, सत्य मिलेगा
स्वंय के अंदर देखो तो परमात्मा और आत्मविश्वास मिलेगा।
----------  
मेरे ईश्वर! हज़ारों ऐब हैं मुझमे, नहीं कोई हुनर बेशक;
मेरी खामी को तू मेरी खूबी को तब्दील कर देना;
मेरी हस्ती है एक खारे समंदर सी मेरे दाता;
तू अपनी रहमतों से इसको मीठी झील कर देना।
----------  
मुश्किल राहें भी आसान हो जाती हैं;
हर राह पर पहचान हो जाती है;
जो कहते हैं मुस्कुरा कर 'शुक्र है मालिक';
किस्मत उनकी गुलाम हो जाती है।
----------  
इतिहास कहता है कि कल सुख था,
विज्ञान कहता है कि कल सुख होगा,
लेकिन धर्म कहता है कि,
अगर मन सच्चा और दिल अच्छा है तो हर रोज़ सुख होगा।
----------  
ना ऊंच-नीच में रहूँ ना जात पात में रहूँ;
तू मेरे दिल में रहे मौला और मैं औकात में रहूँ;
तेरी हर रजा दिल से कबूल हो मुझे;
शुकराना करता रहूँ तेरा जिस भी हालत में रहूँ।
----------  
आँसू पोंछ कर हँसाया है मुझे;
मेरी गलती पर भी सीने से लगाया है मुझे;
ऐसे गुरु पर कैसे प्यार ना हो;
जिस गुरु ग्रंथ साहिब जी ने जीना सिखाया है मुझे।
----------  
सुख भी बहुत हैं, परेशानियां भी बहुत हैं,
ज़िन्दगी में लाभ हैं, तो हानियां भी बहुत हैं,
क्या हुआ जो प्रभु ने हमें थोड़े गम दे दिए,
उस की हम पर मेहरबानियाँ भी बहुत हैं।
----------  
इंसान जीवन में रिश्ते नातों को निभाता चला गया;
जीवन की इस दौड़ में खुद को भुलाता चला गया;
बंदगी भी ना कर पाया उस खुदा की रहमतों की;
खाली हाथ आया था और मुठी बंद कर चला गया।
----------  
प्रभु के आगे जो झुकता है वो सबको अच्छा लगता है;
लेकिन, जो सबके आगे झुकता है वो प्रभु को अच्छा लगता है।
----------  
दौलत छोड़ी दुनिया छोड़ी सारा खज़ाना छोड़ दिया;
वाहेगुरू के प्यार में दीवानों ने राज घराना छोड़ दिया; दरवाज़े पे जब लिखा हमने नाम हमारे वाहेगुरू का;
मुसीबत ने दरवाज़े पे आना छोड़ दिया।
----------  
सिमरन कर लोगे तुम जितना, उतना ही अज्ञान मिटेगा;
सुख-दुःख तुमको एक लगेंगे, जब सच्चा वो ज्ञान मिलेगा;
जब औरों के काम आओगे. तब-तब जीवन सफल रहेगा;
उससे मिलना फिर मुमकिन है, जब औरों का ध्यान रहेगा।
----------  
हिम्मत ना हारिये, उस मालिक को न बिसारिये;
मुश्किलों और कठिनाइयों का अगर करना है खात्मा;
तो हर वक़्त कहते रहो तेरा शुक्र है परमात्मा, तेरा शुक्र है परमात्मा।
----------  
मैं रोज़ गुनाह करता हूँ और खुदा मुझे माफ़ कर देता है;
मैं मज़बूर आदत से हूँ और वो मज़बूर अपनी रेहमत से है।
----------  
तकदीर पे लिखे पर शिकवा न कर;
तू अभी इतना समझदार नहीं कि रब के इरादे समझ सके।
----------  
इस दश्त के सेहरा को समंदर कर दे;
या मेरी आँख के हर अश्क को पत्थर कर दे;
या खुदा मैं और कुछ नहीं मांगता तुझ से;
मेरी चादर मेरे पैरों के बराबर कर दे।
----------  
प्रभु से यह मत कहो कि समस्या विकट है;
बल्कि समस्या से कह दो कि मेरे प्रभु मेरे निकट हैं।
----------  
जब तेरी ररहमतों पर मेरी नज़र जाती है;
ऐ खुदा! मेरी ये दो आँखें फिर भर आती हैं;
तू दे रहा है मुझे हर चीज़ इस कदर;
कि हाथ दुआ में उठने से पहले ही झोली भर जाती है।
----------  
को काहू को मित्र नहीं, शत्रु काहू को नाय;
अपने ही गुण दोष से, शत्रु मित्र बन जाय।

संसार का एक ही नियम है, आप जिसके लिए उपयोगी हैं वो आप को मित्र मानेगा। जिस को आप के कारण नुक्सान हो रहा होगा, वो आप का शत्रु हो जायेगा।
----------  
मुझे इतना नीचे भी मत गिराना हे ईश्वर! कि मैं पुकारूँ और तू सुन ना पाये;
और इतना ऊँचा भी मत उठाना कि तू पुकारे और मैं सुन ना पाऊं।
----------  
ऐ खुदा तू भी अपना जलवा दिखा दे;
हर किसी की ज़िंदगी तू अपने नूर से सज़ा दे;
जो हैं बैठे खामोश से इस समय;
उनकी ज़िंदगी भी तू अपने कर्म से रौशन कर दे।
----------  
खूबसूरत तालमेल है मेरे और उसके बीच में;
ज्यादा मैं माँगता नहीं, कम वो देता नहीं।
----------  
सब का मालिक वो एक कुल परमात्मा है,
उस का अपना कोई नाम नहीं है पर सारे नाम उसकी के हैं,
उसको किसी भी नाम से पुकारो वो ज़रूर जवाब देता है।
----------  
खाली हाथ आए और खाली हाथ चले। जो आज तुम्हारा है, कल और किसी का था, परसों किसी और का होगा। इसलिए जो कुछ भी तू करता है, उसे भगवान के अर्पण करता चल।
----------  
शिवाय विष्णु रुपाय
शिव रुपाय विष्णवे
शिवस्य हृदयं विष्णुः
विष्णोश्च हृदयं शिव:
----------  
मैं आँधियों से क्यों डरूँ जब मेरे अंदर ही तूफ़ान है;
मैं मंदिर मस्जिद क्यों जाऊं जब मेरे अंदर ही भगवान है।
----------  
हज़ारों ऐब हैं मुझमे, नहीं कोई हुनर बेशक;
मेरी खामी को तू मेरी खूबी में तब्दील कर देना;
मेरी हस्ती है एक खारे समंदर सी मेरे दाता;
तू अपनी रहमतों से इसको मीठी झील कर देना।
----------  
जब हम कठिन परिस्थितियों से गुज़र रहे होते हैं और प्रभु को मौन पाते हैं तो;
याद रखना कि परीक्षा के दौरान शिक्षक हमेशा मौन रहते हैं।
----------  
सुख भी बहुत हैं, परेशानियां भी बहुत हैं;
ज़िंदगी में लाभ बहुत हैं तो हानियां भी बहुत हैं;
क्या हुआ जो थोड़े ग़म मिले ज़िंदगी में;
खुदा की हम पर मेहरबानियाँ बहुत हैं।
----------  
मेरी औकात से बाहर मुझे कुछ न करने देना मालिक;
क्योंकि ज़रूरत से ज्यादा रौशनी भी इंसान को अँधा कर देती है।
----------
किसी की गलतियों को बेनक़ाब ना कर;
'ईश्वर' बैठा है, तू हिसाब ना कर।
----------  
ज़मीन पे सुकून की तालाश है, मालिक तेरा बंदा कितना उदास है;
क्यों खोजता है इंसान राहत दुनिया में, जबकि हर मसले का हल तेरी अरदास है।
----------  
साईं कहते हैं;
उदास न हो मैं तेरे साथ हूँ;
सामने नहीं आस-पास हूँ;
पलकों को बंद करके दिल से याद करना;
मैं और कोई नहीं तेरा विश्वास हूँ।
----------  
इबादतें हों कुछ इस तरह से तेरे नाम के साथ;
कि दिन गुज़र जाये तेरी रहमतों के साथ।
----------  
जैसे मोमबत्ती बिना आग के नहीं जल सकती वैसे ही मनुष्य भी ---------- जीवन के बिना नहीं जी सकता।
----------  
जानना ही है तो उस खुदा को जानो, मेरी क्या हस्ती है;
इन अनजान अजनबियों के बीच, अनजान मेरी मिट्टी है।
----------  
जब मुझे यकीन है कि खुदा मेरे साथ है;
तो इस से कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन कौन मेरे खिलाफ है।
----------  
जब अपने लिए दुआ करो तो दूसरों को भी याद किया करो;
क्या पता, किसी के नसीब की खुशी आपकी एक दुआ के इंतज़ार में हो।
----------  
संगीत सुनकर ज्ञान नहीं मिलता;
मंदिर जाकर भगवान् नहीं मिलता;
पत्थर तो लोग इसीलिए पूजते हैं;
क्योंकि विश्वास के लायक इंसान नहीं मिलता।
----------  
एक एक कर इतनी कमियां निकाली लोगों ने 'मुझमें';
कि अब बस 'खुबियां' ही रह गई हैं मुझमें!
----------  
जब तेरी रहमत पर मेरी नज़र जाती है - मेरे रब जी, मेरी आँखें भर आती हैं;
तू दे रहा है मुझे इस क़दर कि हाथ दुआ में उठने से पहले ही झोली भर जाती है!
----------  
कहते है:
ज़िंदगी का आखिरी 'ठिकाना' ईश्वर का घर है।
कुछ अच्छा कर लें, मुसाफिर! किसी के घर 'खाली' हाथ नहीं जाते!
----------  
कभी आप दूसरों के लिए मांग कर देखो;
तुम्हें कभी अपने लिए मांगने की ज़रूरत ही नहीं पड़ेगी।
----------  
प्यार करो तो धोखा मत देना;
प्यार को आंसुओं का तोहफा मत देना;
दिल से रोए कोई तुम्हें याद करके;
ऐसा किसी को मौका मत देना।
----------  
तू इस कदर इंसान को बेबस ना बना ऐ मेरे खुदा, कि तेरा बंदा तुझसे पहले किसी और के आगे झुक जाए!
----------  
जब दुआ और कोशिश से बात ना बने, तो फैसला भगवान पर छोड़ दो, भगवान अपने बन्दों के बारे में बेहतर फैसला करते हैं।
----------
अगर ख़ुदा नहीं तो उसका ज़िक्र क्यों और अगर वो है तो फ़िक्र क्यों।
----------  
जब ऊपर वाला आपसे कुछ वापिस लेता है तो, यह मत सोचो कि उसने आपको कोई दंड दिया है;
हो सकता है, उसने आपका हाथ खाली किया हो, पहले से बेहतर कुछ देने के लिए!
----------  
तू अगर मुझे नवाजे तो तेरा करम है मालिक;
वरना तेरी रहमतों के काबिल मेरी बंदगी नहीं।
----------  
मनुष्य बड़ा अज़ीब है, प्रार्थना करते वक़्त समझता है कि भगवान बहुत नज़दीक है;
और गुनाह करते वक़्त यह समझता है कि भगवान बहुत दूर है।
----------  
इंसान प्यार करने के लिए होते हैं और पैसे इस्तेमाल करने के लिए;
पर दर्द तब होता है, जब लोग पैसों से प्यार और इंसानों का इस्तेमाल करते हैं!
----------  
समय, सत्ता, संपति और शरीर सदा साथ नहीं देते।
परन्तु
स्वभाव, समझदारी, सत्संग और सच्चे संबंध सदा साथ देते हैं।
----------  
नेकियाँ कर के, जो दरिया में डाल दोगे अभी;
वही तूफानों में कश्तियाँ बन कर साथ देंगी कभी।
----------  
आँसू हर ख़ुशी और ग़म में इंसान का साथ देते हैं;
आँसू बहने से दिल का बोझ हल्का होता है;
आँसू ख़ुशी के मौके पर भी निकलते हैं और ख़ुशी का इज़हार करते हैं;
आँसू दोस्त बिछड़ने पर आँखों से मोतीयों की तरह बहने लगते हैं;
आंसुओं से प्यार करो क्योंकि यह बिन मांगे मिल जाते हैं।
----------  
ज़िंदगी में क़ामयाब होने के 2 असूल;
1. कभी किसी को पूरी बात मत बताओ।
.
..
...
....
.....
2. ?????
.
..
...
....
क्या ढूंढ रहे हो?
मुझे भी क़ामयाब होना है।
----------  
जीवन मिलना भाग्य की बात है;
मृत्यु आना समय की बात है;
पर मृत्यु के बाद भी लोगों के दिलों में जीवित रहना;
ये कर्मों की बात है।
----------  
जब तेरी इनायत पर मेरी नज़र जाती है मेरे मालिक;
मेरी आँखें भर आती हैं;
तू दे रहा है मुझे इस क़दर;
कि हाथ दुआ में उठने से पहले ही झोली भर जाती हैं।
----------  
बात किरदार में होती है;
वरना क़द में साया भी इंसान से बड़ा होता है।
----------  
मूर्खों से तारीफ़ सुनने से बुद्धिमान की डांट सुनना ज्यादा बेहतर है।
आचार्य चाणक्य
----------  
एक व्यक्ति ने स्वामी जी से पूछा: सब कुछ खोने से ज्यादा बुरा क्या है?
स्वामी ने जवाब दिया: "वो उम्मीद खोना जिसके भरोसे पर हम सब कुछ पा सकते हैं।"
----------  
जीवन में कभी भी कठिन हालत में अपनी आस्था को कम न होने दें;
क्योंकि;
भगवान जिसे सच्चे मन से प्यार करते हैं उन्हें ही अग्नि परीक्षाओं से होकर गुजारते हैं।
"जय श्री कृष्ण"
----------  
बुराई से असहयोग करना मानव का पवित्र कर्तव्य है।
जो हाथ सेवा के लिए उठते हैं, वे प्रार्थना करते होंठों से पवित्र हैं।
----------  
मेरा-तेरा;
छोटा-बड़ा;
अपना-पराया;
मन से मिटा दो;
फिर सब तुम्हारा है और तुम सबके हो।
----------  
प्रभु के सामने जो झुकता है, वह सबको अच्छा लगता है;
लेकिन;
जो सबके सामने झुकता है वो प्रभु को अच्छा लगता है।
----------  
इंसानियत इंसान को इंसान बना देती है;
लगन हर मुश्किल को आसान बना देती है;
वर्ना कौन जाता मंदिरों में पूजा करने;
आस्था ही पत्थरों को भगवान बना देती है।
----------  
साईं वाणी:
जीवन मिलना भाग्य की बात है;
मृत्यु आना समय की बात है;
पर मृत्यु के बाद भी लोगों के दिलों में जीवित रहना;
ये 'कर्मों' की बात है।
----------  
संत की जाती नहीं होती;
आकाश का घुमाव नहीं होता;
भूमि का तौल नहीं होता और;
पारस का कोई मोल नहीं होता।
----------  
धर्म न कोई करने की वस्तु है और न ही कोई पूजा पाठ का तरीका है;
धर्म तो मात्र सात्विक, कर्तव्य और अकर्तव्य है;
जो हमें अपने जीवन में उन्नति की ओर तथा;
सत्य एवं परमात्मा की ओर ले जाता है।
----------  
सतगुरु अपनी वाणी से परमात्मा का सन्देश;
दर्शन से परमात्मा की अनुभूति;
और आशीर्वाद से परमात्मा की कृपाओं का अमृत बरसाते हैं।
----------  
प्रार्थना ऐसी करनी चाहिए जैसा कि;
सब कुछ ईश्वर पर ही निर्भर है;
और काम ऐसे करने चाहिए जैसे;
कि सब कुछ हम पर निर्भर है।
----------  
जब तक आप खुद पर विश्वास नहीं करते;
तब तक आप भगवान पर भी विश्वास नहीं कर सकते।
----------  
जो पुण्य करता है वह देवता बन जाता है;
जो पाप करता है वह पशु बन जाता है;
किन्तु जो प्रेम करता है वह आदमी बन जाता है।
----------  
पवन पुत्र श्री हनुमान की जय;
मेरे तन में राम हैं;
मेरे रोम रोम में राम हैं;
मेरे मन में भी;
राम का ही नाम है।
----------  
तेज स्वर में की गई प्रार्थना, ईश्वर तक पहुंचे यह आवश्यक नहीं, किन्तु सच्चे मन से की गई प्रार्थना, जो भले ही मौन रह कर की गई हो; वह प्रार्थना ईश्वर तक अवश्य पहुंचती है।
----------  
मनुष्य अपने विश्वास में निर्मित होता है;
जैसा वह विश्वास करता है, वह वैसा बन जाता है!
----------  
'खुशियाँ' चंदन की तरह होती हैं दूसरे के माथे पर लगाओ फिर भी अपनी उँगलियाँ खुद ही महक जाती हैं।
----------  
ईश्वर से कुछ मांगने पर न मिले तो उससे नाराज मत होना;
क्योंकि;
ईश्वर वह नहीं देता जो आपको अच्छा लगता है;
बल्कि वह देता है जो आपके लिए अच्छा होता है।
----------  
प्यार और विश्वास को हो सके तो कभी ना खोयें;
क्योंकि प्यार हर किसी से होता नहीं;
और;
विश्वास हर किसी पे होता नहीं;
ये दोनों ही जीवन के बहुमूल्य तथ्य हैं।
----------  
है फिर भी सुकून कि 'तलाश' है;
मालिक तेरा बंदा कितना 'उदास' है;
क्यों खोजता है इंसान 'राहत';
जब कि दुनिया में सारे 'मसलों' का हल है तेरी 'अरदास' में!
----------  
को काहू को मित्र नहीं, शत्रु काहू को नाय;
अपने ही गुण दोष से, शत्रु मित्र बन जाय।
----------  
बोली माहि कठोरता, प्रभु को नाहि सुहाय;
सोई जीभ माही हड्डी, प्रभु ने दीन्ही नाय।
----------  
यदि तुम अपनी इच्छा से नहीं, भगवान की इच्छा से ही चल रहे हो तो;
सैकड़ों जन्म-मृत्युओं में जाना भी तुम्हारे लिये सौभाग्य और परमानन्द है।
----------  
हमने हर शाम चिरागों से सजा रखी है;
मगर शर्त हवाओं से लगा रखी है;
न जाने कौन सी राह से मेरे साईं आ जाएँ;
हमने हर राह फूलों से सजा रखी है।
----------  
मेरी औक़ात से बाहर मुझे कुछ ना देना मेरे मालिक;
क्योंकि
ज़रूरत से ज्यादा रोशनी भी इंसान को अंधा बना देती है।
----------  
कर ऐसी इनायत अए साहिबा तेरा शुकर मनाना आ जाए;
हम बन्दे हैं बन्दों की तरह हमें प्यार निभाना आ जाए।
----------  
मैं और मेरा इश्वर, दोनों एक जैसे हैं। हम रोज़ भूल जाते हैं।
वो मेरी गलतियों को और मैं उसकी
.
..
...
मेहरबानियों को।
----------  
तू अगर मुझे नवाज़े तो तेरा करम है मालिक;
वर्ना तेरी रहमतों के काबिल मेरी बंदगी नहीं।
ॐ साईं राम।
----------  
दुख मे सिमरन सब करे सुख में करे न कोए;
जो सुख में सिमरन करे तो दुख काहे को होए।
~ Bhagat Kabir
----------  
मंदिर में फूल चढ़ाने गए तो एहसास हुआ;
कि पत्थरों की ख़ुशी के लिए फूलों का क़त्ल कर आये हम;
मिटाने गए थे पाप जहाँ पर, वहीँ एक और पाप कर आये हम।
----------  
सारा जहाँ है उसका जो मुस्कुराना सीख ले;
रोशनी है उसकी जो समां जलाना सीख ले;
हर गली में मंदिर है;
हर गली में मस्ज़िद है;
पर ईश्वर है उसका जो सर झुकाना सीख ले।
----------  
जब अपने लिए दुआ करो तो दूसरों को भी याद किया करो।
क्या पता, किसी के नसीब की खुशी आपकी एक दुआ के इंतज़ार में हो।
----------  
चार अक्षर पड़कर कोई ज्ञान नहीं मिलता;
मंदिर जाकर भगवान नहीं मिलता;
पत्थर लोग पूजते हैं इसलिए;
क्योंकि विश्वास के लायक इंसान नहीं मिलता!
----------  
ईश्वर से पूछा, "आपके और मानव के प्रेम में क्या अंतर है?"
ईश्वर ने कहा, आसमान में उड़ता पंछी मेरा प्रेम है;
और पिंजरे में कैद पंछी मानवीय प्रेम है!
----------  
दुनियां में सबसे तेज रफ़्तार प्रार्थना की है, क्योंकि दिल से जुबान तक पहुँचने से पहले यह भगवान तक पहुँच जाती है!
----------