Funny shayari

Biwi Par Mere Aitbaar Ki Hadd Dekh Ghalib...
Usne Din Ko Raat Kaha Aur Maine Peg Bana Liya!
----------
Taras Gye Hum Tere Labon Se Kuchh Sun-ne Ke Liye;
Pyaar Ki Baat Na Sahi, Koi Bakwaas Hi Kar Liya Karo!
----------
Dhadkan Dil Ki Ruk Jati Hai;
Sanse Aksar Tham Jati Hai;
Bahut Buri Halat Hoti Hai Yaaro;
Jab GF Se Shaadi Karne Ki Naubat Aati Hai!
----------
Tujhe Paane Ke Liye Kuchh Bhi Kar Sakta Hu;
Tere Pyaar Mein Jee Toh Kya, Mar Bhi Sakta Hu;
Phir Bhi Tu Nahi Mili To Koi Mujhe Gham Nahi;
Yeh Formula Kissi Dusri Pe Set Kar Sakta Hu!
----------
Mohabbat Karli Tumse Bahut Sochne Ke Baad;
Ab Kisi Ko Dekhna Nahi Tumhe Dekhne Ke Baad;
Duniya Chhod Denge Tumhe Pane Ke Baad;
Khuda Maaf Kare Itna Jhooth Bolne Ke Baad!
----------
Arz Farmaiya Hai:
Ishq Mein Zor Nahi Chalta, Ghalib;
Wah Wah!
Ishq Mein Zor Nahi Chalta, Ghalib;
Kabz Mein Bhi Nahi Chalta!
----------
Baarish Hue Bheeg Gaye Hum;
Baarish Hue Bheeg Gaye Hum;
Rajinikanth Ne Phuk Maari;
Aur Fir Kya - Sukh Gaye Hum!
----------
Bewaafa Tum Ho To Wafadaar Hum Bhi Nahi;
Besharam Tum Ho To Sharamsar Hum Bhi Nahi;
Pyaar Ke Iss Maud Par Kehte Ho Ke Shadishuda Ho;
To Kya Hua Darling, Kunware Hum Bhi Nahi!
----------
Na Jaane Wo Humse Kya Chhupati Thi;
Kuch Tha Zaroor Uske Payyare Se Hontho Pe;
Magar Na Jaane Kyon Humse Sharmati Thi;
Jab Munh Khulwaya Tab Jakar Maloom Huya;
Saali Chup-Chup Paan Masala Chabati Thi!
----------
Mere Dost Tum Bhi Likha Karo Shayari;
Tumhara Bhi Meri Tarah Naam Ho Jayega;
Jab Tum Par Bhi Padenge Ande Aur Tamatar;
To Shaam Ki Sabji Ka Intajaam Ho Jayega!
----------
Na Jaane Kab Koi Taara Toot Jaaye;
Na Jaane Kab Koi Aansu Aankh Se Chhoot Jaaye;
Kuch Pal Hamare Saath Bhi Has Lo;
Na Jaane Kab Tumhare Daant Toot Jaaye!
----------
Hum Aaj Bhi Dil Ka Aashiyana Sajane Se Darte Hain;
Baagon Mein Phool Khilane Se Darte Hain;
Hamari Ek Pasand Se Tut Jaayeinge Hazaaro Dil;
Tabhi Toh Hum Aaj Bhi Girlfriend Bananey Se Darte Hain!
----------
Socha Tha Har Modd Par Tumhara Intezar Karenge;
Gaur Farmaiye:
Socha Tha Har Modd Par Tumhara Intezar Karenge;
Magar Kambakhat Saali Sadak Hi Seedhi Nikli!
----------
Tumhari Adaon Pe Main Vari-Vari;
Tumhari Adaon Pe Main Vari-Vari;
Kya Udhar Light Aa Ri?
Idhar Toh Aa Ri - Ja Ri, Aa Ri - Ja Ri!
----------
Teri Yaad Mein Humne Kalam Uthaayi;
Liya Paper Aur Tasveer Aapki Banayi;
Socha Tha Ki Usko Dil Se Laga Kar Rakhenge;
Magar Wo Toh Bacho Ko Draane Ke Kaam Aayi!
----------
Umeedon Ki Manzil Toot Gayi;
Aankho Se Ashqo Ki Dhara Beh Gayi;
Arre Tumhari Bhi Kya Ijjat Reh Gayi;
Jab Class Main Ladki Bhaiya Keh Gayi!
----------
Zaamane Ke Dar Se Teri Tasveer Toilet Mein Chhupa Rakhi Hai;
Deedar Ho Tera Bar-Bar, Iss Liye Julab Ki Goli Kha Rakhi Hai!
----------
Woh Aaj Bhi Hume Dekh Kar Muskurate Hein;
Gaur Farmiyae:
Woh Aaj Bhi Hume Dekh Kar Muskurate Hein;
Yeh Toh Unke Bachche Hi Kamine Hein;
Jo Humein Mama-Mama Bulaate Hein!
----------
Khayal Ko Kissi Aahat Ki Aas Rehti Hai;
Nigah Ko Kissi Soorat Ki Talash Rehti Hai;
Tere Bin Koi Kami Toh Nahi Hai, Dost;
Bas Gali Waali Jamadarni Udaas Rehti Hai!
----------
Ishq Ke Khayaal Buhut Hein;
Ishq Ke Charche Buhut Hein;
Sochte Hein Hum Bhi Kar Lein Ishq;
Par Sunte Hein Ishq Mein Kharche Buhut Hein!
----------
Aaj Tum Par Aansuyon Ki Barsat Hogi;
Fir Wahi Kadakti Kali Raat Hogi;
Yaad na Kar Ke Tumne Dil Dukhaya Hai Mera;
Ja Tere Badan Mein Khujali Sari Raat Hogi!
----------
Dhokha Mila Jab Pyar Mein;
Zindagi Mein Udaasi Chaa Gayi;
Socha Tha Chhod Dein Is Raah Ko;
Kambhakht Mohalley Mein Dusri Aa Gayi!
----------
Unke Gum Me Jo Pee Li Sharaab;
Unke Gum Me Jo Pee Li Sharaab;
Fir Jo Hui Tabiyat Kharab;
De Tatti, De Peshaab - De Tatti, De Peshaab!
----------
Shayad Mere Pyar Ko Taste Karna Bhool Gayee Tum;
Dil Sey Aisa Cut Kiya Ke Paste Karna Bhool Gayee Tum!
----------
Aggar Manzil Ko Pana Hai To Hosla Sath Rakhna;
Aggar Pyar Ko Pana Hai To Aetbar Sath Rakhna;
Aggar Hamesha Muskurana Hay To Daant Saaf Rakhna!
----------
Arz Kiya Hai:
Mehfil Mein Hamare Joote Kho Gaye To Ham Ghar Kaise Jayenge;
Wah Wah!
Mehfil Mein Hamare Joote Kho Gaye To Ham Ghar Kaise Jayenge;
Kisi Ne Kaha:
"Aap Shayari To Shuru Kijiye, Itne Milenge Ki Aap Gin Nahi Payenge"!
----------
Aankho Mein Nami Thi, Aur Vitamin Ki Kami Thi;
Wah Wah!
Aankho Mein Nami Thi, Aur Vitamin Ki Kami Thi;
Jis-Se Raat Bhar Chatting Ki, Woh Girlfriend Ki Mummy Thi!
----------
Akbar Dabe Nahin Kisi Sultaan Ki Fauj Se;
Lekin Shaheed Ho Gaye Biwi Ki Nauj Se!
~ Akbar Allahabadi
----------
Jawani Ke Din Chamkille Ho Gaye;
Aur Husn Ke Tewar Nukile Ho Gaye;
Hum Izhaar Karne Me Thode Dhille Ho Gaye;
Aur Unke Hath Peele Ho Gaye!
----------
Kabhi Tum Gor Se Dekho Aaina;
Wah Wah!
Kabhi Tum Gor Se Dekho Aaina;
Khud Hi Hanskar Kahoge...
Made in China!
Made in China!
----------
Aashiq Pagal Ho Jate Hai Pyar Mein;
Baki Kasar Puri Ho Jati Hai Intezar Mein;
Magar Ye Fouzii Dilruba Nahi Samajhti;
Golgappe Khati Firti Hai Baazar Mein!
----------
Khuda Kare Kisi Ko Judai Na Mile;
Wah Wah!
Khuda Kare Kisi Ko Judai Na Mile;
Aur Jo Group Main Message Na Kare Usse Thand Me Rajai Na Mile!
----------
Na Mujhe Kisi Ka Dil Chahiye;
Na Mujhe Jamane Se Koi Aas Hai;
Jo Apni Girlfriend Ki Pappi Dilwa De;
Bas Aise Dost Ki Talaash Hai!
----------
Woh Ishq Ki Raaho Mein Kya Kamaal Karti Hai;
Wah Wah!
Woh Ishq Ki Raaho Mein Kya Kamaal Karti Hai;
Likhti Hai I Love You Aur Send to All Karti Hai!
----------
Dil Toota Hai Mera Par Ashk Nahi;
Uss Ka Ehsaas Hai Par Woh Pass Nahi;
Judaii Ka Dard Zaroor Hai Hum Ko;
Lekin Itna Bhi Khaas Nahi!
----------
Sumundar Se Keh Do Apni Mojain Sanbhal Ke Rakhe;
Zindagi Mein Tofaan Laane Ke Liye Susral Wale Hi Kaafi Hai!
----------
Chup Ho Kis Wajah Se, Humein Maloom Nahi Hai Magar;
Dil Doob Sa Jata Hai Jab Tum Bakwas Nahi Karte!
----------
Arz Kiya Hai:
Dil Mein Dard Hai Aur Ankhon Mein Ansu Hai;
Wah Wah! Dil Mein Dard Hai Aur Ankhon Mein Ansu Hai;
Zara Apni Wale Ka Number Dena, Suna Hai Baadi Dhassu Hai!
----------
Mohabbat Karli Tumse Bahut Sochne K Baad;
Ab Kisiko Dekhna Nahi Tumhein Dekhne K Baad;
Dunia Chod Deinge Tumhein Pane K Baad;
Khuda Maff Kre Itna Jhoot Bolne Ke Baad!
----------
Phone Ke Rishte Bhi Ajib Hote Hai;
Balance Rakhkar Bhi Log Garib Hote Hai;
Khud To Msg Karte Nahi Hai;
Muft Ke Msg Padhne Ke Kitne Shauqin Hote Hai!
----------
Meri Hassi Ka Hisaab Kaun Karega?
Meri Galti Ko Maaf Kaun Karega?
Ae-Khuda, Mere Dost Ko Salamat Rakhna;
Warna Meri Shaadi Pe "Lungi Dance" Kaun Karega!
----------
Arz Kiya Hai:
Sita Ji Ke Vanvaas Jaane Mein Bahut Badi Seekh Hai;
Wah Wah!
Sita Ji Ke Vanvaas Jaane Mein Bahut Badi Seekh Hai;
Ghar Mein Teen-Teen Saas Ho To Jungle Hi Theek Hai!
----------
Hum Aaj Bhi Dil Ka Aashiana Sajane Se Darte Hain;
Baagon Mein Phool Khilanne Se Darte Hain;
Hamari Ek Pasand Se Tut Jaaeinge Hazaaro Dil;
Tabi Toh Hum Aaj Bhi Girlfriend Bananee Se Darte Hain!
----------
Daarhi Ka Ek Baal Bhi Baqi Nahin Raha;
Begum, Yeh Kya Mila Diya Tu Ne Khizaab Mein!

Translation:
Khizaab: Hairdye
----------
Aashiqi Ka Ho Bura Haal;
Ishne Bigaare Saare Kaam;
Hum Toh A.B. Mein Rahe;
Aghiaar B.A. Pass Ho Gaye!

Translation:
Aghiaar: Others
----------
Woh Mujhse Milkar Royi Itna Ki;
Uski Naak Ka Bulbula Dekh Kar Meri Hasi Nikal Gayi!
----------
Rakh Le 2-4 Botal Kafan Mein;
Saath Baith Kar Piya Karenge;
Jab Mange Ga Hisab Gunahon Ka;
Ek Peg Usse Bhi De Diya Karenge!
----------
Aakash Ke Taro Me Khoya Hai Jaha Sara;
Lagta He Pyara Ek Ek Tara;
Un Taro Me Sabse Pyara Hai Ek Sitara;
Jo Is Wakt Pad Raha Hai Sms Hamara!
----------
Sitaro Me Aap, Hawao Me Aap, Fizao Me Aap;
Baharo Me Aap, Dhop Me Aap, Chaaon Me Aap;
Sach Hi Suna Hai Ki Buri Aatmao Ka Koi Thikana Nahi Hota!
----------
Muqadar Main Raat Ki Neend Nahi To Kya Hua;
Hum Bhi Muqadar Ko Dhoka De Kar Din Ko So Jatay Hain!
----------
Log Kehte Hai Ki Pyar Ek Aisi Bimari Hai;
Jiski Koi Dawa Nahi Hoti;
Hum Kehte Hai Bewfai Ek Aisi Dawa Hai;
Jisse Ye Bimari Dubara Nahi Hoti!
----------
Aashiq Hoon Par Maashooq Farebi Hai Mera Kaam;
Majnoon Ko Bura Kahti Hai Laila Mere Aage!
~ Mirza Ghalib
----------
LIC Wale Bhi Kya Gazab Dhate Hain;
LIC Wale Bhi Kya Gazab Dhate Hain;
Logon Ki Biwiyon Ke Paas Ghanton Baith Ke;
Husband Ke Marne Ke Fayde Batate Hain!
----------
Sooraj Woh Jo Din Bhar Aasman Ka Saath De;
Chand Woh Jo Raat Bhar Taaron Ka Sath De;
Pyaar Woh Jo Zindagi Bhar Saath De;
Aur Biwi Woh Jo Har Baat Ka Ulta Jawab De!
----------
Beeti Hui Zindagi Ki Kuch Itni Si Kahani Hai;
Kuch Khud Barbaad Hue;
Kuch Orkut Aur Facebook Ki Meharbani Hai!
----------
Khawaab Aayaa To Hum Uskaa Didaar Paa Gaye;
Par Kambakht Without Make-Up Aayi Thi Iss Liye Hum;
Neend Mein Ghabraa Gaye!
----------
Jise Dil Diya Woh Dilli Chali Gayi;
Jise Pyar Kiya Woh Italy Chali Gayi;
Dil Ne Kaha Khudkushi Kar Le Zalim;
Bijli Ko Haath Lagaya To Bijli Chali Gayi!
----------
Tujhe Mujhse Mujko Tujse Jo Bohat Hi Pyar Hota;
Na Tujhe Qaraar Hota Na Mujhe Qaraar Hota;
Tera Har Marz Ulajhta Meri Jaan-E-Natwaan Se;
Jo Tujhe Zukaam Hota, To Mujhe Bukhaar Hota!
----------
Dil Se Kabhi Mujhe Yaad Kiya Karo;
Itna Gair Na Samjho Call Nahi To Atleast;
Miss Call To Kar Liya Karo!
----------
Zindagi Apni Masti May Jiya Karo;
Ishq Bahut Bura Hai Na Kiya Karo;
Tum Apna Pura Dhyan Career Par Mod Do;
Ishq Aur Apni Girlfriend Ko, Mujh Par Chor Do!
----------
Kasam Se Har Ek Ladki Bhula Dunga;
Sab Hi Ki Tasveerein Jala Dunga;
Ek Tum Hi Rahogi Iss Dil Mein;
Phone Mein Balance Dalwa Do Bahut Dua Dunga!
----------
Dost Ne Kahaa Imtihaan Mein ki Paanchve Swaaal Ka Jawaab Batao;
Main Bhi Muskuraa Kar Bas Itna Hi Keh Saka "Melody Khao Khud Jaan Jao!"
----------
Sita Ji Ke Vanvaas Jane Mein Bahut Badi Seekh Hai;
Wah Wah!
Sita Ji Ke Vanvaas Jane Mein Bahut Badi Seekh Hai;
Ghar Me 3-3 Saas Ho To Jungle Hi Theek Hai!
----------
Mausam Shabaab Ka, Nasha Sharaab Ka;
Parda Janab Ka, Or Rung Gulaab Ka;
In Sabse Haseen Sabse Lajwaab Dekho;
SMS Padne Waala, Mendak Taalaab Ka!
----------
Arz Kiya Hai:
Dena Hai Ye Dil Daan Mein;
Dena Hai Ye Dil Daan Mein;
Koi Hai Kya Mast Item Aapke Dhyaan Mein!
----------
Hui Koi Khata Humse To Saja Dena;
Hum Yaad Rahe To Thik Varna Bhula Dena;
Bas Ek Ilteja Hai Tujhse Haseen Ki;
Break Off Se Pehle Apni Kisi Saheli Se Mila Dena!
----------
Kal Jab Mile The To Dil Mein Hua Ik Sound;
Or Aaj Mile To Kehte Hain Your File Not Found;
Jo Muddat Se Hota Aaya Hai Wo Repeat Kar Dunga;
Tu Na Mili To Apni Zindagi Ctrl+Alt+Delete Kar Dunga!
----------
Woh Bewafa Hai To Kya Hua Mat Bura Kaho Usko;
Tum Mujhsey Set Ho Jaao Daffaa Karo Usko!
----------
Ishq Mohabbat To Hazaaro Karte Hain;
Gum Aur Judaai Se Sabhi Darte Hain;
Hum To Na Ishq Karte Hain Na Mohabbat Bas;
Dost Ki Ek Smile Ke Liye SMS Karte Hain!
----------
Aye Khoobsurat Haseena, Tu Sirf Sawal Nahi Ek Paheli Hai;
Aye Khoobsurat Haseena, Tu Sirf Sawal Nahi Ek Paheli Hai;
Aur Jispe Hum Line Maarte Hain, Vo Tu Nahi Teri Saheli Hai!
----------
Baadal Garja Shor Ke saath;
Barish Bhi Hui Bade Zor Ke Sath;
Zara Dhayan Rakhna Apni Girlfriend Ka;
Kahin Bhaag Naa Jaaye Kisi Aur Ke Sath!
----------
Kuch Hosha Bhi Fanna The Kuch Aankhon Mein Bhi Nami Thi;
Saari Raat Jis Se Hum Ne Chatting Ki Vo Hamari Girlfriend Ki Mummy Thi!
----------
Hum Teri Dosti Aakri Dum Tak Nibhaayenge;
Jahaan Tu Pair Rakehga Vahaan Phool Bichaayenge;
Tu Ek Baar Examination Hall Mein Ghus To Sahi;
Vaadaa Hai Tujhse Ki Hum Parchi Fenkne Zarur Aayenge!
----------
Bekabu Hai Dil Fir Bhi Jiye Ja Raha Hun;
Khali Hai Botal Fir Bhi Piye Ja Raha Hun;
Majburi To Dekho Iss Dil Ki;
Reply Nahi Mil Raha Fir Bhi Message Kiye Jaa Raha Hun!
----------
Zindgi Ke Safar Ko Lafzo Mein Piroya Hua Hai;
Apni Har Ghazal Ko Dard Mein Bhigoya Hua Hai;
Aaj Zyada Zor-Zor Se Wah-Wah Na Kehna Kambakhton;
Kyunki Andar Mera Khadoos Baap Soya Hua Hai!
----------
Dhadkan Dil Ki Ruk Jaati Hai;
Saanse Aksar Tham Jaati Hai;
Badi Buri Haalat Hoti Hai Yaaron;
Jab;
Girlfriend Se Shaadi Karne Ki Naubat Aati Hai!
----------
Jawaani Ke Din Chamkile Ho Gaye;
Husn Ke Tevar Nukile Ho Gaye;
Faisla Lene Mein Humne Kuch Der Kar Di;
Ki Itne Waqt Mein Unke Haath Peele Ho Gaye!
----------
Khayal Ko Kissi Aahat Ki Aas Rehti Hai;
Nigah Ko Kissi Soorat Ki Talash Rehti Hai;
Tere Bin Koi Kami Toh Nahi Hai Aye Dost;
Bas Gali Waali Jamadarni Udhaas Rehti Hai!
----------
Arj Kiyaa Hai:
Tum Se Nazar Milaate Hi;
Bhadak Uthe Mere Dil Mein;
Mohabbat Ke Shole;
Ole Ole Ole, Ole Ole Ole!
----------
Safed Suit Par Jab Lal Bindi Lagati Ho;
Kasam Se Bilkool Ambulance Nazar Aati Ho;
Farq Itna Hai Wo Zakhmiyon Ko Le Jaati Hai;
Aur Aap Ho Ki Aashiqon Ko Zakhmi Kar Jaati Ho!
----------
Teri Yaad Mein Humne Kalam Uthaayi;
Liya Kagaz Aur Tasveer Aapki Banayi;
Socha Tha Ki Usko Dil Se Laga Kar Rakhenge;
Magar Vo To Bachchon Ko Draane Ke Kaam Aayi!
----------
Hum Aapko Dekhne Ki Chaahat Rakhte Hain;
Aapki Har Baat Dil Mein Chupaaye Rakhte Hain;
Na Jaane Kab Aap T.V Per Aaa Jaayein;
Isiliye Din Raat Cartoon Network Lagae Rakhte Hain!
----------
To Arz Kiya:
Tum Jo Aaye Zindagi Mein Baat Ban Gayi;
Tum Jo Aaye Zindagi Mein Baat Ban Gayi;
Samose Me Chutney Daali Chaat Ban Gayi!
----------
Unhone Ne Dekha Humein Tirchi Nazar Se To Hum Madhosh Ho Gaye;
Jab Pata Chala Ki Unke Nain He Tirche Hai To Hum Behosh Ho Gaye!
----------
Tu Mera Dil Ban Ja, Meri Jaan Ban Ja;
Meri Arzu Ban Ja, Mera Armaan Ban Ja;
Bandaron Vaali Harkatein Chod De Ab Tu;
Aur Thoda Sudhar Ja, Aur Insaan Ban Ja!
----------
Ki Ruthe Hai Aise Wo Humse, Jaise Hum Sach Mein Unhe Mana Lenge;
Itna Waqt Kaun Barbaad Kare, Itne Mein To Hum Dusri Pataa Lenge!
----------
Wo Aaye Meri Kabar Pe Diya Bujha Ke Chal Diye;
Jo Bachaa Khucha Tel Tha Sir Mein Laga Ke Chal Diye!
----------
Dekh Kar Tumhari Hasi, Hum Hosh Apne Gawaan Baithe;
Dekh Kar Tumhari Hasi, Hum Hosh Apne Gawaan Baithe;
Hosh Mein Aane Ko The, Ki Tum Phir Se Muskura Baithe!
----------
Apni Surat Ka Kabhi To Didaar De;
Tadap Raha Hun Kabhi To Apna Pyaar De;
Apni Awaaz Nahi Sunani To Mat Suna;
Kam Se Kam 1 Missed Call Hi Maar De!
----------
Teri Yaad Mein Humne Kalam Uthaayi;
Liya Paper Aur Tasveer Aapki Banayi;
Socha Tha Ki Usko Dil Se Laga Kar Rakhenge;
Magar Vo To Bachchon Ko Draane Ke Kaam Aayi!
----------
Mere Dost Tum Bhi Likha Karo Shayari;
Tumhara Bhi Meri Tarah Naam Ho Jayega;
Jab Tum Par Bhi Padenge Ande Aur Tamatar;
To Shaam Ki Sabji Ka Intajaam Ho Jayega!
----------
Chali Jaati Hai Aaye Din Wo Beauty Parlour Mein Yu;
Unka Maqsad Hai Misaal-e-Hoor Ho Jana;
Magar Ye Baat Kisi Begum Ki Samajh Mein Kyun Nahi Aati;
Ki Mumkin Hi Nahi Kishmish Ka Fir Se Angoor Ho Jana!
----------
Na Jaane Woh Humse Kya Chupaati Thi;
Kuch Tha Uske Honthon Par Na Jane Kyu Sharmaati Thi;
Jab Humne Muh Khulwake Dekha To Pata Chala;
Wo To Tambakoo Khaati Thi!
----------
Dosti Ke Afsaane Gaaynege Hum;
Apni Ik Alag Duniya Basaayenge Hum;
Jo Diya Bujh Gaya Dosti Ka Hawaaon Se;
To Usko Bech Kar Philips Ka Bulb Le Aayenge Hum!
----------
Hothon Ko Chhua Usne, Ehsaas Aab Tak Hai;
Ankhon Mein Nami, Sanson Mein Aag Aab Tak Hai;
Waqt Guzaar Geya, Par Uski Yaad Na Gai;
Kya Panipuri Thi Yaar, Swaad Aab Tak Hai!
----------
Tere Chehre Pe Udaasi Aankhon Mein Nami Hai;
Tere Chehre Pe Udaasi Aankhon Mein Nami Hai;
Tata Namak Istemaal Kar Bete Tujhme Iodine Ki Kami Hai!
----------
Dhokha Mila Jab Pyar Main, Zindagi Mein Udaasi Si Chaa Gayi;
Socha Tha Chhod Dein Is Raah Ko, Kambhakht Mohalley Mein Dusri Aa Gayi!
----------
Dil Ki Baat Dil Mein Mat Rakhna;
Jo Pasand Ho Usse 'I Love You' Kehna;
Agar Wo Gusse Mein Aa Jaaye To Darna Mat;
Raakhi Nikaal Na Aur Kehna Pyari Behna Milti Rehna!
----------
Kah Do Un Padhne Valon Se;
Kabhi Hum Bhi Padhai Kiya Kartey The;
Jitnaa Syllabus Padh Kar Aaj Wo Top Kartey Hain;
Utnaa To Hum Choice Par Chod Diya Kartey The!
----------
Usne Haathon Per Mehendi Lagaai Hai;
Humne Uski Doli Sajaai Hai;
Hamein Pata Tha Woh Bewafa Niklegi;
Isliye Humne Uski Choti Behen Bhi Pataai Hai!
----------
Hum Aaj Bhi Dil Ka Aashiyana Sajane Se Darte Hain;
Baagon Mein Phool Khilaney Se Darte Hain;
Hamari Ek Pasand Se Tut Jaayeinge Hazaaro Dil;
Tabhi Toh Hum Aaj Bhi Girlfriend Bananey Se Darte Hain!
----------
Meri Kabar Pe Mat Gulaab Leke Aana;
Na Hi Haathon Mein Chiraag Leke Aana;
Payasa Hu Main Barso Se Jaanam;
Bas Aate Waqt Ek Kadhaai Chicken Aur Saath Mein Sharaab Leke Aana!
----------
Neend Aati Hai To Khwaab Aate Hein;
Khwaab Mein Ek Ladki Aati Hai;
Ladki Ke Pichhe Uska Baap Aata Hai;
Phir Na Neend Aati Hai Na Khwaab Aata Hein!
----------
Wo Ishk To Karti Hai Par Junoon Nahi Karti;
Wo Katal To Karti Hai Par Khoon Nahi Karti;
Is Kadar Kanjoos Hai Meri Chahne Vaali;
Miss Call To Karti Hai Phone Nahi Karti!
----------
Umar Ki Raah Mein Jazbaat Badal Jaate Hain;
Waqt Ki Aandhi Mein Halaat Badal Jaate Han;
Sochta Hoon Kaam Kar-Kar Ke Record Tod Du;
Lekin Kambakht Salary Dekhte Hi Khayaal Badal Jaate Hain!
----------
Aapko Humse Kabhi Khone Nahi Denge;
Aapko Khud Se Alag Hone Nahi Denge;
Kabhi SMS Bhi Kar Dia Karo Warna;
Aankh Mein Mirchi Dal Denge Aur Dhone Bhi Nahi Denge!
----------
Koi Aankhon Se Baat Kar Leta Hai;
Koi Aankhon Mein Mulaqat Kar Leta Hai;
Bada Mushkil Hota Hai Jawab Dena Yaroo;
Jab Koi English Mein Baat Kar Leta Hai!
----------
Is Duniya Mein Lakho Log Rehte Hain;
Koi Hasta Hai, To Koi Rota Hai;
Par Is Jahaan Mein Sukhi Bas Vo Hai Yaaron;
Jo Shaam Ko Do Peg Lagaa Ke Sota Hai!
----------
Puri Bottal Na Sahi Ek Jaam Ho Jaaye;
Milna Na Sahi Dua Salaam Ho Jaaye;
Jinki Yaad Mein Hum Bimaar Baithe Hain;
Unhe Bukhaar Na Sahi Jukhaam Ho Jaaye!
----------
Paagal Hai Wo Log Jo Ladkiyo Ko Miss Karte Hai;
Miss Karna Hai To Machharo Ko Karo;
Jo Jaan Hateli Per Rakh Kar Aap Ko Kiss Karte Hai!
----------
Tumhaari Yaad Dil Se Jaane Nahin Denge;
Tumhaare Jaisa Dost Khone Bhi Nahin Denge;
Roz Sharafat Se SMS Kiya Karo Warna;
Ek Kaan K Neeche Denge Aur Rone Bhi Nahin Denge!
----------
Suraj Wo Jo Din Bhar Aasmaan Ka Saath De;
Chand Wo Jo Raat Bhar Taaron Ka Saath De;
Pyaar Wo Jo Zindagi Bhar Ka Sath De;
Aur Biwi Woh Jo Har Baat Ka Ulta Jawab De!
----------
Baaghon Mein To Bahaar Darakhton Kee Dekh Lee;
College Mein Aa Key Convocation Ko Dekhiye;
Leemoo To Kaaghazee Bahut Dekhey Hain Aapney;
Ab Kaaghazee Taraqqee-E-Nation Ko Dekhiye!
~ Akbar Hussain Akbar Allahabadi
----------
Pyaar Ke Geet Gayenge Hum;
Apni Ek Nayi Duniya Basaayenge Hum;
Jo In Hawaaon Se Diya Bujh Gaya;
Unhe Bech Kar Philips Ke Bulb Layenge Hum!
----------
Arz Kiya Hai
Rok Do Mere Janaaze Ko;
Ab Mujhme Jaan Aa Rahi Hai;
Aage Se Thoda Right Le Lo, Kyonki Daru Ki Dukaan Aa Rahi Hai!
----------
Jahan Ki Gurbat Me Sukun Nahi Ayega;
Gam-e-tohin Se Kubul Nahi Ayega;
Maklul Ki Fitrat He Ye Kafir;
Dimag Fat Jayega Par Ye Sher Samajh Nahi Ayega!
----------
Ishq Ke Khayaal Bohat Hain;
Ishq Ke Charche Bohat Hain;
Sochte Hain Hum Bhi Kar Le Ishq;
Par Sunte Hain Ishq Mein Kharche Bohat Hain!
----------
Buhut Namkeen Hai Woh Jisse Ham Chahte Hein;
Har Pal Khuda Se Ussi Ko Mangte Hein;
Dil Buhut Tarasta Hai Usse Paane Ko;
Kya Aapka Dil Nahi Karta Maggi Khaane Ko!
----------
Arz Hai:
Uss Ne Chupke Se Meri Girl Friend Ka Number Nikal Liya, Ae Dost;
Aur Aaj Wo Apni Hi Bhen Ko Message Kar Kar Ke Khush Hota Hai Har Roz!
----------
Palkon Se Aansu Bikhar Jate Hein;
Aap Kya Jaano Aap Kitna Yaad Aate Hein;
Hum Aaj Bhi Usi Moad Pe Khade Hein;
Jaha Apne Kaha Tha, Tum Yahin Ruko;
Hum Daru Aur Namkin Lekar Aate Hein!
----------
Woh Kehti Thi Maine Tumhe Apne Dil Main Lock Kar Diya;
Gaur Farmaiyega...
Woh Kehti Thi Maine Tumhe Apne Dil Main Lock Kar Diya;
Aur Aaj Usne Facebook Pe Hamein Block Kar Diya!
----------
Zindgi Ne Diye Bahot Se Dhoke;
Gor Farmaye
Zindgi Ne Diye Bahot Se Dhoke;
But it's OK, it's OK, it's OK!
----------
Laakhon honge nigaah mein,
kabhi mujhe bhi pick karo,
Mere pyaar ke icon pe kabhi to double-click karo!
----------
Shayad mere pyar ko taste karna bhool gayi,
Dil se aisa cut kiya ke paste karna bhool gai!
----------
Jo muddat se hota aaya hai,
Woh repeat kar dunga,
Woh na mili to apni zindagi,
ctrl+alt+delete kar dunga!
----------
Kal jab mile the,
Dil mein hua ek sound,
Aaj mile to kahte hai,
your file not found!
----------
He is KISSING, She is KISSING;
.
He is KISSING, She is KISSING;
.
.
Some text missing, some text missing..
----------
Jahan ki gurbat me sukun nahi ayega,
Gam-e-tohin se kubul nahi ayega.
Maklul ki fitrat he ye kafir,
Dimag fat jayega par ye sher samajh nahi ayega.
----------
Kanjoos ki zindagi kya jeena, kabhi humari tarah bhi jiya karo,
Roz mere sms padh kar sharam nahi aati, kabhi khud bhi SMS kiya karo.
----------
Na Moh Na Maya Hai, Aalas Tumhi Ko Aaya Hai;
Humein Bhi Message Kar Ke Dekh Lo, Mere Dost;
Nokia/Samsung/Apple Ne Yeh Itna Mehnga Mobile;
Sirf Tumhari GIRLFRIEND Ke Liye Nahi Banaya Hai!
----------
Moor Ker Na Dekh Mujhe, Yoon Hanstay Hanstay,
Mere Dost Hain Barre Kharab, Keh Dengay Bhabhi Namaste!
----------
Dil Do To Kisi Ek Ko, Jo Dil Se Nek Ho;
Aggar Sachha Pyaar Na Mile, Try Maro Har Ek Ko!
----------
Har Khushi Teri Taraf Maud Doon;
Tere Liye Chand Taare Tak Tod Doon;
Khushiyo Ke Darwaje Tere Liye Khol Doon;
Itna Kaafi Hai, Ya Do-Chaar Jhoot Aur Bol Du!
----------
Meri ankho ko sapne fir dikha gaya koi, buzhti sason me mahak fir jaga gaya koi, kya ye sachmuch pyar hai, ya Chutiya fir se bana gaya koi.
----------
Aapake miss call bhi kya baat hain,
Aapke sms bhi din raat hain,
Kabhi kabhi phone bhi kiya karo,
Suna hain aapake awaaz me bhi khas baat hain.
----------
Apni Surat ka kabhi to didaar de,
Tadap raha hu kabhi to apna pyaar de,
Apni awaaz nahi sunani to mat suna,
Kam se kam ek Missed call he maar de
----------
Jise Koyal Samjhe, Woh Kauwa Nikla; Dosti Ke Naam Par Hauwa Nikla
Jo Rokte Thay Humein Sharaab Peene Se;
Aaj Unhi Ki Jeb Se Pauwa Nikla!
----------
Sitaron se agey jahan aur bhi hein,
Abhi Mohabbat k imthan aur bhi hein,
Tum hi nehi jalatey mere dil ko,
College mein Ladkiyan aur bhi hein
----------
Khidki se dekha to raastey pe koi nahin tha,
Khidki se dekha to raastey pe koi nahin tha,
Raaste pe jaake dekha to khidki pe koi nahi tha
----------
Legs utha ke karo,
Tange faila ke karo,
Ghuma ghuma ke karo,
Aage peechey dono taraf karo,
Jitna karoge utna halka mehsoos hoga
Oye I'm talking abt Yoga
----------
Hotho Se Jo Choo Liya, Ehsaas Ab Tak Hai;
Aankhe Nam Hai, Aur Sanson Mein Aag Ab Tak Hai;
Raat to Hum Kat Lenge Jaise Taise;
Chinta Hai Subah Ki, Jab Yeh "Hari Mirch" Karegi Aisi Taisi!
----------
Do pal ki bhi khushi na mili to kya hua umr bhar gam ke sahare ji lenge,
Kya hua jo hamari girlfriend nahi, hum aapki girlfriend ke sahare ji lenge.
----------
Tere DIL mein rahenge SMS bankar,
Dhadkano mein bajenge RINGTONE bankar,
Kabhi apne DIL se juda mut Samajana,
Hum tere saath chalenge NETWORK bankar!
----------
Hum dua karte hain Khuda se,
ki wo aap jaisa dost aur na banaye,
Ek Cartoon jaisi cheez hai humare paas,
kahin wo bhi common na ho jaye!
----------
Zindagi Behaal Hai, Sur Hai Na Taal Hai;
Message Box Bhi Kangaal Hai,
Kya Aapki SMS Factory Mein Hartal Hai;
Yaar Kuchh Toh Bhejo Mere Mobile Pe;
Sabhi Groups Mein Izaat Ka Sawaal Hai!
----------
Dil mein umeedo ki shamma jala rakhi hai,
Humne apni alag duniya basa rakhi hai,
Is umeed ke saath ki ayega SMS aapka,
Humne mobile par nazrein jama rakhi hein.
----------
Vo aaj bhi hume dekh kar muskurate hain,
Vo aaj bhi hume dekh kar muskurate hain,
Yeh to unke bachche hee kaminey hain,
Jo Mama-Mama kehke bulaate hain.
----------
Safar lamba hai dost banate rahiye,
Dil mile na mile haath badate rahiye,
Taj na banaiye costly padega,
Har taraf Mumtaj banate rahiye.
----------
Jab jab ghire badal teri yaad ayi,
Jab jhoom ke barsa sawan teri yaad ayi,
Jab-jab mein bhiga teri yaad ayi,
Ab raha nahin jata, Chatri Lauta de Bhai.
----------
Kya lekar aaya tha?
Kya lekar jayega?
Mujhe SMS na karke zaalim,
Tu kitna chillar bachayega?
----------
Aahat si koi aaye to lagta hai ki tum ho,
Saya sa koi lehraye to lagta hai ki tum ho,
Ab tumhi batao tum kya kisi bhoot se kam ho?
----------
Aey mere SMS mere dost ke pass jana,
Agar wo so raha ho to shor mat machana,
Jab wo jage to dhire se 'Muskarana',
Phir kehna "KANJUS" SMS karo!
----------
Dil ka dard dil todne wale kya jane,
Pyar ke rivazon ko zamana kya jane,
Hoti hai kitni takleef ladki patane mein,
Ye ghar pe baitha ladki ka baap kya jaane.
----------
Bazu-o-mein dum rakhta hun,
Dil mein gum rakhta hun,
Pata tha SMS ayega tera,
Isliye DISPRIN sang rakhta hun.
----------
Aaj didar, kal yaar, parson pyaar,
phir ekrar, phir intezar, phir takrar,
phir darar, sari mehnat bekar,
aur aakhir mein ek aur devdas at beer bar.
----------
Ramchandra keh gaye siya se aisa kalyug aayega,
Ek dost ek taraf se SMS karega, doosra apna paisa bachayega.
----------
Message Pe Message Bhejte Ho;
Bhej Bhej Ke Bheja Uddarte Ho;
Bhejne Ho Toh Sirf Khud Ke Bhejo;
Doosron Ka Bheja Hua Bhejte Ho!
----------
Itna khubsurat kaise muskura lete ho,
Itna qatil kaise sharma lete ho,
Kitni aasani se jaan le lete ho,
Kisi ne sikhaya hai...ya bachpan se hi kamine ho?
----------
Tuhaar chehra Moti samaan, Tuhaar chehra Moti samaan, Tuhaar chehra Moti samaan, Moti hamaar kutte ka naam!
----------
Bari warsi khatan gaya si, khat ke leyanda Taanga;
Bari warsi khatan gaya si, khat ke leyanda Taanga;
Oye agge ki?
Agge Ghora
----------
Chand pe kali ghata chati to hogi,
Sitaron ko hansi aati to hogi,
Tum lakh chupao duniya se,
Magar akele mein tumhe apni shakal pe hansi aati toh hogi!
----------
Tere Dar pe, Arz kiya hai ki
tere der pe sanam hazar baar ayengey,
tere der pe sanam hazar baar ayengey,
Ghanti bajayengey aur bhaag jayengey.
----------
Manzil ki taraf badhte raho.
Jo dil kahe usi rah ko chuno,
peeche walon ko age na jaane do
aur jo aage hai unse aage niklo.
Tabhi 1 acche Truck Driver banoge.
----------
जिंदगी दिन प्रतिदिन मजदूर हुई जा रही है,
और लोग 'इंजीनियर साहब' कहके ताने दिए जा रहे हैं।
---------- 
मच्छर ने आपको काटा ये उसका जुनून था,
मच्छर ने आपको काटा ये उसका जुनून था,
फिर आपने वहाँ खुजाया ये आपका सुकून था,
चाह कर भी आप उसे मार नहीं पाये,
ग़ौर फ़रमाइये हुज़ूर चाह कर भी आप उसे मार नहीं पाये,
क्योंकि उसकी रगों में आप ही का ख़ून था।
---------- 
अर्ज़ किया है चुप-चाप चल रहा था मैं मंज़िल की ओर,
फिर ठेके पर नज़र पड़ी और हम गुमराह हो गए।
---------- 
प्यारा सा चेहरा, मीठी सी आवाज़;
मासूम सा दिल, स्वीट सी मुस्कान;
परफेक्ट पेर्सोनलिटी, खुसमिजाज अंदाज़;
ये तो हुई मेरी बात... और बताओ कैसे हो आप?
---------- 
अर्ज़ किया है:
वो कहती अपने भाइयों से, मेरे आशिक़ को यूँ ना पीटो;
ज़रा गौर फरमाइये:
वो कहती अपने भाइयों से, मेरे आशिक़ को यूँ ना पीटो;
बड़ा ज़िद्दी है ये कमीना, पहले कुत्ते की तरह घसीटो।
---------- 
क्या बताए ग़ालिब वो गुस्से में भी हम पे रहम कर गई;
लगाया कस के चांटा और सर्दी में गाल गरम कर गई।
---------- 
मेरे इश्क की बोलिंग ने उसके दिल की विकेट बहुत उम्दा तरीके से गिराई;
तकदीर ऐसी हमारी, अंपायर उसका बाप निकला, जिसने ऊँगली नहीं उठाई!
---------- 
धन से बेशक गरीब रहो पर दिल से रहना धनवान;
अक्सर झोपडी पे लिखा होता है सुस्वागतम;
और महल वाले लिखते है कुत्ते से सावधान।
---------- 
हज़ारों ख्वाहिशें ऐसी, कि हर ख्वाहिश पे Rum निकले;
जी भर के कभी ना पी पाया, क्योंकि जेब में पैसे कम निकले।
---------- 
जब तुम अंगडाई लेते हो, हमारा दम निकल जाता है;
ऐ ज़ालिम, ये बता नहाने में तुम्हारा क्या जाता है।
----------
तेरे ग़म में तड़प कर मर जायेंगे;
मर गए तो तेरा नाम ले जायेंगे;
रिश्वत देकर तुझे भी बुलायेंगे;
तुम ऊपर आओगे तो साथ बैठकर कुरकुरे खायेंगे।
---------- 
हीर रो-रो कर रांझे से कह रही है;
हीर रो-रो कर रांझे से कह रही है;
.
.
.
.
.
हाथ छोड़ कमीने मेरी नाक बह रही है।
---------- 
न वफ़ा का ज़िक्र होगा;
न वफ़ा की बात होगी;
अब मोहब्बत जिस से भी होगी;
राखी के बाद होगी।
---------- 
हमारे ऐतबार की हद ना पूछ ग़ालिब;
उसने दिन को रात कहा और हमने पैग बना लिया।
----------   
तुम्हारी अदाओं पे मैं वारी-वारी;
तुम्हारी अदाओं पे मैं वारी-वारी;
क्या उधर लाइट आ री?
इधर तो आ री - जा री, आ री - जा री!
---------- 
ऐ दोस्त बांध ले कफन मे व्हिस्की की बोतल, कब्र मेँ बैठकर पिया करेगे;
इन लङकियो से तो मिली बेवफाई, अब चुड़ैलों से सेटिंग किया करेंगे!
----------  
अर्ज़ किया है:
मेरे इश्क के बालिंग ने उसके दिल का विकेट गिरा दिया;
पर तक़दीर तो देखो, उसका बाप अंपायर निकला;
.
.
.
मेरी बाल को "नो बाल" देकर फ्री हिट कर दिया!
---------- 
जो तुमको हो पसंद वही बात कहेंगे;
गौर फरमाइये:
​जो तुमको हो पसंद वही बात कहेंगे;
​क्योंकि हम पागलों से बहस नहीं करते।
---------- 
​फ़िज़ाओं के बदलने का इंतजार मत कर;
आँधियों के रुकने का इंतजार मत कर;
​पकड़ किसी को और फरार हो जा;
​पापा की पसंद का इंतजार मत कर।
---------- 
तुम्हे जब देखा हमने तो यह ख्याल आया;
बड़ी जल्दी में रब था जब तुमको बनाया;
तुम्हे जब देखा रब ने तो वो भी घबराया;
बनाना क्या था मुझको है मैंने क्या बनाया। ​
----------
मेरे दोस्त तुम भी लिखा करो शायरी;​
तुम्हारा भी मेरी तरह नाम हो जाएगा;​
जब तुम पर भी पड़ेंगे अंडे और टमाटर;​​
​तो शाम की सब्जी का इंतज़ाम हो जाएगा।
---------- 
​ना वक्त इतना हैं कि सिलेबस पूरा किया जाए​;​
ना तरकीब कोई की एग्जाम पास किया जाए​;​
ना जाने कौन सा दर्द दिया है इस पढ़ाई ने​;​
ना रोया जाय और ना सोया जाए​।
---------- 
धोखा मिला जब प्यार में;​
जिंदगी में उदासी सी छा गई;​​
सोचा था छोड़ देंगे इस राह को;​
कम्भख्त मोहल्ले में दूसरी आ गई।
---------- 
रिश्वत भी नहीं लेता कम्बखत जान छोड़ने की;
यह तेरा इश्क़ भी मुझे केजरीवाल लगता है!
----------   
किस किस का नाम लें, अपनी बरबादी मेँ;
बहुत लोग आये थे दुआयेँ देने शादी मेँ!
---------- 
वो मंदिर भी जाता है और मस्जिद भी:
परेशान पति का, कोई मज़हब नहीं होता।
---------- 
वो ज़हर देकर मारते तो दुनिया की नज़र में आ जाते;
अंदाजे कत्ल तो देखो मोहब्बत करके हमसे शादी ही कर ली।
---------- 
मोहब्बत का सफर लंबा हुआ​;​
​​तो क्या हुआ, थोड़ा तुम चलो​;
​थोड़ा हम चले, थोड़ा तुम चलो;​
​थोड़ा हम चले, फिर रिक्शा कर लेंगे।
---------- 
कितना शरीफ शख्श है;
पत्नी पे फ़िदा है;
उस पे ये कमाल है कि;
अपनी पे फ़िदा है।
---------- 
उम्र की राह में जज्बात बदल जाते है;
वक़्त की आंधी में हालात बदल जाते है;
सोचता हूँ कि काम कर-कर के रिकॉर्ड तोड़ दूँ;
पर ऑफिस आते आते ख़यालात बदल जाते है।
----------
चेतावनी
अगर आपको कोई अनजान पार्सल मिले;
तो उसे ना खोलें उसमें मेरी फोटो हो सकती है;
और आपकी ज़रा सी लपरवाही आपको;
मेरा दीवाना बना सकती है।
---------- 
कोई तो बुक ऐसी मिलती जिस पे दिल लुटा देते;
हर सब्जेक्ट ने दिमाग़ खाया किसी एक को निपटा देते;
अब सेलेबस देख कर ये सोचते हैं कि;
एक महीना ओर होता तो दुनिया हिला देते।
---------- 
पानी में विस्की मिलाओ तो नशा चढ़ता है;
पानी में रम मिलाओ तो नशा चढ़ता है;
पानी में ब्रेंड़ी मिलाओ तो नशा चढ़ता है;
साला पानी में ही कुछ गड़बड़ है।
---------- 
दिल दो किसी एक को;
वो भी किसी नेक को;
जब तक मिल ना जाए कोई;
ट्राई करते रहो हर एक को।
---------- 
बहुत खूबसूरत हो तुम;
खुद को दुनिया की बुरी नज़रों से बचाया करो;
सिर्फ आँखों में काजल ही काफी नहीं;
गले में नींबू, मिर्च और चप्पल भी लटकाया करो।
---------- 
अर्ज किया है,
ए सुनामी जरुरत नहीं तेरी इन;
खौफ़नाक लहरों की;
जिंदगी में खौफ़ लाने के लिए;
तो घरवाली ही काफी है।
---------- 
अर्ज़ किया है..
लड़की रो रो के लड़के से कह रही है..
वाह! वाह!!
लड़की रो रो के लड़के से कह रही है..
हाथ छोड़ दे कमीने नाक बह रही है।
---------- 
एक शराबी की दास्तां...

सोच रहा हूँ दारू छोड़ दूं;
पर, किसके सहारे छोडू?
सभी कमीने है साले, पी जायंगे।
---------- 
कोई आँखों से बात कर लेता है;
कोई आँखों में बात कर लेता है;
बडा मुश्किल होता हैं जवाब देना यारों;
जब कोई इंग्लिश में बात कर लेता है।
---------- 
हवा का झोंका आया;
तेरी खुसबू साथ लाया;
मैं समझ गई कि तू आज फिर नहीं नहाया।
----------

बारिश का मौसम बहुत तडपता है;
उनकी याद हैं जिन्हें दिल चाहता है;
लेकिन वो आए भी तो कैसे;
ना उनके पास रैन कोट है और ना छाता है।
---------- 
पानी आने की बात करते हो;
दिल जलाने की बात करते हो;
चार दिन से मुंह नहीं धोया;
तुम नहाने की बात करते हो।
---------- 
वो कहती थी कि मैं तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत;
बना दूंगी, बनानी तो उसे मैगी भी नहीं आती थी;
लेकिन मैडम का आत्मविश्वास तो देखो।
---------- 
वो मेरी किस्मत मेरी तक़दीर हो गई;
हमने उनकी याद में इतने ख़त लिखे कि;
वो रद्दी बेचकर अमीर हो गई।
---------- 
आँखों से आँसू छलक पड़े बेरोजगारी के उस;
अहसास पे ग़ालिब जब घर वाली ने कहा;
"ए जी खाली बैठे हो तो ये मटर ही छील दो"।
---------- 
मैंने चाहा तुझे अबला समझ कर;
मैंने चाहा तुझे अबला समझ कर;
तेरे बाप ने पीट दिया मुझे तबला समझ कर।
---------- 
ख़त लिखता हूँ खून से स्याही ना समझना;
किसी मरीज़ का सैंपल आया था मेरा न समझना!
---------- 
हम दुआ करते हैं खुदा से;
कि वो आप जैसा दोस्त और ना बनाए;
एक कार्टून जैसी चीज़ जो हमारे पास है;
कहीं वो भी कॉमन ना हो जाए!
---------- 
जब तू होती थी मेरी ज़िन्दगी में तो तेरे मेरे इश्क के चर्चे बहुत थे;
अच्छा ही हुआ ज़िन्दगी से चली गयी तू क्योंकि तेरे खर्चे ही बहुत थे!
---------- 
प्यार का गीत गायेंगे हम;
तुझसे मोहब्बत निभायेंगे हम;
जो तूने कबूल कर लिया प्यार मेरा तो ठीक;
वरना किसी और हसीना को पटायेंगे हम!
----------
तेरे बारे में सोचा तो मुझे एक ख्याल आया;
तुझे मैंने दोस्त बना के ज़िन्दगी में क्या पाया;
बाकी बातों को तो तू मार गोली;
पहले ये बता तूने पड़ोस वाली आइटम को कैसे पटाया!
---------- 
नींद आती है तो एक ख्वाब आता है;
ख्वाब में इक लड़की आती है, और पीछे उसका बाप आता है;
फिर क्या, फिर ना नींद आती है ना ख्वाब आता है!
---------- 
आज तुम पे आंसुओं की बरसात होगी;
फिर वही कड़कती रात होगी;
SMS ना करके तूने दिल दुखाया है मेरा;
जा तेरे बदन में खुजली सारी रात होगी!
---------- 
सितम ढाने की हद होती है;
पास ना आने की रूठ जाने की हद होती है;
एक SMS तो कर दे जालिम;
पैसे बचाने की भी हद होती है!
---------- 
तेरी गलतियों को माफ़ कौन करता;
मैं ना रहता तो तुझसे इन्साफ कौन करता;
शुक्र है खुदा ने सलामत रखा मेरे दोस्त को;
वरना मेरी शादी में जूठी प्लेटें साफ़ कौन करता!
---------- 
चूल्हे पे रखा तवा गर्म है;
वाह-वाह;
चूल्हे पे रखा तवा गर्म है;
आज कल की लड़कियों से ज़्यादा तो लड़कों में शर्म है!
---------- 
कर्ज़ा देता मित्र को, वह मूर्ख कहलाए;
महामूर्ख वह यार है, जो पैसे लौटाए!
~ Hullad Muradabadi
---------- 
क्या सुनाएँ हम आपको दास्ताँ-ए-गम;
अर्ज किया है;
क्या सुनाएँ हम आपको दास्ताँ-ए-गम;
जब से आप मिले हो परेशान हो गए हैं हम!
---------- 
खुदा के घर से कुछ गधे फरार हो गए;
कुछ तो पकडे गए, और कुछ हमारे यार हो गए!
---------- 
लिखना पढ़ना छोड़ दे बन्दे नेकियों पर रख आस;
चादर उठा और आराम से सो जा भगवान् करेंगे पास!
----------
मैं अपने घर गया वो अपने घर गयी;
फिर मुझको क्या खबर कि वहां से वो किधर गयी!
---------- 
क्या हुआ जो उसने रचा ली मेहँदी;
हम भी अब सेहरा सजायेंगे;
तो क्या हुआ अगर वो हमारे नसीब में नहीं;
अब हम उसकी छोटी बहन पटायेंगे!
---------- 
शायर हूँ शायरी अर्ज़ करता हूँ जो इतनी भी नहीं है बुरी;
शायर हूँ शायरी अर्ज़ करता हूँ जो इतनी भी नहीं है बुरी;
चुपचाप सुन लो नहीं तो जान से हाथ धो बैठोगे;
क्योंकि मेरे पास है छुरी!
---------- 
मोहब्बत करने वालों को इनकार अच्छा नहीं लगता;
इस दुनिया के बाशिंदों को इकरार अच्छा नहीं लगता;
जब तक लड़का भगा नहीं ले जाए लड़की को;
तब तक लोगों को प्यार सच्चा नहीं लगता!
---------- 
मुस्कुरा कर लडको को पागल बनाना तो हसीनो की इक अदा है;
अर्ज़ किया है; 
मुस्कुरा कर लडको को पागल बनाना तो हसीनो की इक अदा है;
और जो कमबख्त उसे मोहब्बत समझे वो सबसे बड़ा गधा है!
---------- 
पी लेंगे तुम्हारा हर एक आंसू;
कभी अपनी महफ़िल में बैठाकर तो देखो;
भाभी कहोगे तुम अपनी गर्लफ्रेंड को;
कभी हमसे मिलाकर तो देखो!
---------- 
मत छीनों बच्चों से मोबाइल;
ये अकेले रहने से बहुत डरते हैं;
ले लो एग्जाम भी SMS पर ही, क्योंकि;
यही है जो वो मन लगाकर करते है!
---------- 
हमेशा ज़िन्दगी में मुस्कुराते रहो;
हर इंसान को अपना बनाते रहो;
जब तक कोई कार वाली ना बने तुम्हारी गर्लफ्रेंड;
तब तक स्कूटर वाली से ही काम चलाते रहो!
---------- 
हम भी जान-ए-मन तेरे लिए ताजमहल बनायेंगे;
अर्ज़ किया है;
हम भी जान-ए-मन तेरे लिए ताजमहल बनायेंगे;
एक कप सुबह पिलायेंगे और एक कप शाम को पिलायेंगे!
---------- 
ना जाने कब कोई अपना रूठ जाए;
ना जाने कब कोई अश्क आँखों से छूट जाए;
कुछ पल हमारे साथ भी मुस्कुरा लिया करो ए दोस्त;
न जाने कब तुम्हारे दांत टूट जाएँ!
----------
तुम्हारा साया बन कर ता उम्र तुम्हारा साथ निभायेंगे;
हर एक कदम तुम्हारी राहों को फूलों से सजायेंगे;
अगर मौत ने जुदा कर भी दिया ए दोस्त हमें तुमसे;
तो तुम्हारी खिड़की के सामने वाले पेड़ पर;
प्रेत बन कर उलटे लटक जायेंगे!
---------- 
मुस्कुराना तो हर खूबसूरत लड़की की अदा है;
और जो उसे प्यार समझे। वो सबसे बड़ा गधा है।
---------- 
दोस्ती को बड़े प्यार से निभाएंगे;
कोशिश रहेगी तुझे न सतायेंगे;
कभी पसंद न आये मेरा साथ तो बता देना;
गिन भी न पाओगे इतने "थप्पड़" लगाएंगे!
---------- 
जब जब घिरे बादल तेरी याद आई;
जब झूम के बरसा बादल तेरी याद आई;
जब-जब मैं भीगा तेरी याद आई;
अब रहा नहीं जाता, छतरी लौटा दे भाई!
---------- 
आरजू में तेरी दीवाने हो गए;
तुझ से दोस्ती करते करते औरों से बेगाने हो गए;
कर दे कोई तो SMS इस नाचीज़ को;
तेरे भी बकवास SMS पढ़े ज़माने हो गए!
---------- 
रंगों से भरी शाम हो आपकी;
चाँद सितारों से ज्यादा शान हो आपकी;
इस ज़िन्दगी में बस एक ही आरजू है हमारी;
कि बंदर से ऊँची छलांग हो आपकी!
---------- 
ऐसी वाणी बोलिये कि सब से झगडा होए;
ऐसी वाणी बोलिये कि सब से झगडा होए;
पर उस से झगडा ना करें जो आप से तगड़ा होए!
---------- 
हंसी के लिए गम कुर्बान;
ख़ुशी के लिए आंसू कुर्बान;
दोस्त के लिए जान भी कुर्बान;
और
अगर दोस्त की गर्लफ्रेंड मिल जाए तो;
साला दोस्त भी कुर्बान।
---------- 
मेरे दिल की दुआएं लेती जा;
जा तुझको सुखी संसार मिले;
मायके याद ना आये तुझे;
ससुराल में इतनी मार मिले!
---------- 
आशिक पागल हो जाते हैं प्यार में;
बाकी कसर पूरी हो जाती है इंतज़ार में;
मगर ये दिलरुबा नहीं समझती;
वो तो पानी-पूरी खाती फिरती है बाजार में!
----------
ए खुदा ग़म न देना मेरे दोस्त को चाहे मुझे ग़मों का संसार दे दे;
घूमें नयी साइकिल पर यार मेरा;
मुझे चाहे पुरानी मर्सिडीज़ कार दे दे!
---------- 
हसीनों के चेहरे पर हर लम्हा हर वक्त हंसी होती है;
हसीनों के चेहरे पर हर लम्हा हर वक्त हंसी होती है;
कमबख्त हमारा दिल भी ऐसी ही हसीना पर आता है;
जो पहले ही किसी कमबख्त से फंसी होती है!
---------- 
जुल्फों में फूलों को सजा के आयी;
चेहरे से दुपट्टा उठा के आयी;
किसी ने पूछा आज बड़ी खुबसूरत लग रही है;
हमने कहा शायद आज नहा के आयी!
---------- 
खुशबु ने फूल को ख़ास बनाया;
फूल ने माली को ख़ास बनाया;
चाहत ने मोहब्बत को ख़ास बनाया;
और कमबख्त मोहब्बत ने कितनो को देवदास बनाया!
---------- 
वो आज भी हमें देख कर मुस्कुराते हैं;
वो आज भी हमें देख कर मुस्कुराते हैं;
ये तो उनके बच्चे ही कम्बख्त हैं;
जो हमें मामा-मामा बुलाते है!
---------- 
उन्होंने देखा हमें तिरछी नज़र से तो हम मदहोश हो गए;
जब पता चला कि उनके नैन ही तिरछे हैं तो हम बेहोश हो गए!
---------- 
इश्क को दर्द-ए-सर कहने वाले सुन;
हमने भी ये दर्द अपने सर ले लिया;
हमारी निगाहों से बचकर वो कहा जायेंगे;
क्योंकि अब हमने उनके मोहल्ले में ही घर ले लिया!
---------- 
खुदा करे कि तुझे खुशियों का संसार मिले;
हर पल तुझे खुशियाँ हज़ार मिलें;
रब्ब करे तेरी गर्लफ्रेंड तुझे राखी बांध जाए;
और तुझे एक और बहन का प्यार मिले!
---------- 
निगाहें आज भी उस शख्स को शिद्दत से तलाश करती हैं;
जिसने कहा था, "बस दसवी कर लो, आगे पढ़ाई आसान है"!
---------- 
ज़िन्दगी लम्बी है दोस्त बनाते रहो;
दिल मिले नी मिले हाथ मिलाते रहो;
ताज महल बनाना तो बहुत महंगा पडेगा; 
इसीलिए हर गली में मुमताज़ बनाते रहो!
----------
मुड़-मुड़ कर ना देख मुझे यूँ हँसते-हँसते;
अर्ज़ किया है;
मुड़-मुड़ कर ना देख मुझे यूँ हँसते-हँसते;
कहीं ऐसा ना हो मेरे दोस्त तुझे कह दें भाभी जी नमस्ते!
---------- 
इश्क का बुखार कुछ इस कदर चढ़ा था हमारे ज़हन पर;
कि मम्मी की चप्पल खा कर ही दिमाग को चैन आया!
---------- 
तेरी ज़िन्दगी में कभी गम ना आये;
तेरी आँखे कभी नम ना हों;
मेरी दुआ है उस खुदे से तुझे मिले एक खुबसूरत सा हमसफ़र;
जिसका वज़न 150 किलो से कम ना हो!
---------- 
हम दुआ करेंगे उस खुदा से कि खुशियों से भर दे वो आपकी झोली;
हम दुआ करेंगे उस खुदा से कि खुशियों से भर दे वो आपकी झोली;
दया कोई भी इनमे से अगर होशियारी दिखाए तो मार देना उसे गोली!
---------- 
खुश रहे तू सदा यह दुआ है मेरी;
तेरी प्रेमिका ही बन जाए भाभी तेरी।
---------- 
ना कर इश्क मेरे यार यह लडकियां बहुत सताती हैं;
ना करना इन पर ऐतबार ये खर्चा बहुत कराती हैं;
कभी खुली आँख से इनकी बेवफाई की हद देखो;
रिचार्ज तुम कराते हो और नंबर मेरा लगाती हैं!
---------- 
आपकी बातों पे दिल हारूं;
आपकी सूरत पे जान वारूं;
जिस नहीं आता आपका कोई सन्देश;
दिल करता है आपके गाल पर दो तमाचे मारूं!
---------- 
लाइलाज थे हम, इलाज़ किसी डॉक्टर के पास न था;
इश्क का रोग था ए दोस्त;
माँ की चप्पल से ही आराम आ गया!
---------- 
तुझसे कैसे नज़र मिलाएं दिलबर जानी;
तुझसे कैसे नज़र मिलाएं दिलबर जानी;
तेरी दायीं आँख काणी;
मेरी बायीं आँख काणी!
---------- 
ताजमहल को देख कर बोला शाहजहाँ का पोता;
ताजमहल को देख कर बोला शाहजहाँ का पोता;
आज अपना भी मोटा बैंक बैलेंस होता;
अगर हमारा दादा आशिक ना होता!
----------
ये मामला भी कैसा अजीब है;
तू दूर होकर भी मेरे करीब है;
ख्वाहिश मिटा तू अपने दिल से उसे पाने की;
क्योंकि जो लड़का तुझे पसंद है वो खानदानी गरीब है!
---------- 
दोस्त रूठे तो रब रूठे, फिर रूठे तो जग छूटे;
अगर फिर रूठे तो दिल टूटे, और अगर फिर रूठे?
तो निकाल डंडा;
मार साले को जब तक डंडा न टूटे!
---------- 
हर तरफ पढाई का साया है;
किताबों मैं सुकून किसने पाया है;
लड़के तो जाते हैं ट्यूशन में लडकियां देखने;
और मास्टर कहता है देखो बेचारा इतनी बरसात में भी पढने आया है!
---------- 
मोहब्बत सिर्फ खर्चों की बड़ी लंबी कहानी है;
कभी फिल्म दिखानी है, कभी शॉपिंग करानी है;
मास्टर रोज कहता है कहाँ हैं फीस के पैसे?
उसे समझाऊं मैं कैसे, मुझे छोरी (लड़की) पटानी है!
---------- 
इश्क को दर्द-ए-सर कहने वाले सुने;
हमने भी ये दर्द अपने सर ले लिया;
हमारी निगाहों से बचकर वो कहा जायेंगे;
हमने तो उनके मोहल्ले में ही घर ले लिया!
---------- 
ना लिया कर इश्क के इम्तिहान इतने जान मेरी;
तेरे इश्क के इम्तिहान देते वक्त अक्सर मेरा दिल कुछ उदास होता;
न कसूर मेरा है ना तेरे उन सवालों का;
बस परेशानी है तो इतनी कि तेरा पप्पू हमेशा ग्रेस मार्क्स से पास होता है!
---------- 
तन्हाई में सताती है उसकी याद ऐसे, चले आते हैं आँखों में आंसू जैसे;
मेरा हुक्म है ये तुम्हे दया कि पता लगाओ मुन्नी बदनाम हुई तो हुई कैसे!
---------- 
जब देखा उन्होंने तिरछी नज़र से;
कसम खुदा की मदहोश हो गए हम;
पर जब पता चला कि नज़र स्थायी तिरछी है;
तो वहीँ खड़े-खड़े बेहोश हो गए हम।
---------- 
जब कोई ज़िन्दगी में बहुत ख़ास बन जाए;
उसके बारे में सोचना ही उसका एहसास बन जाए;
तो मांग लेना खुदा से उसे जिंदगी भर के लिए;
इससे पहले की उसकी माँ किसी और की सास बन जाए!
---------- 
चाँद से रोशनी ज्यादा और सितारों से कम निकले;
वाह वाह!
चाँद से रोशनी ज्यादा और सितारों से कम निकले;
जब भी मैं तुझे देखूं मेरी हंसी एक दम निकले।
----------
उसके प्यार में उम्र भर इंतज़ार किया;
उसके प्यार में उम्र भर इंतज़ार किया;
और उस इंतज़ार में जाने कितनों से प्यार किया।
---------- 
इश्क में ये अनजाम पाया है;
हाथ पैर टूटे, मुंह से खून आया है;
हॉस्पिटल पहुचा तो नर्स ने फ़रमाया;
बहारों फूल बरसाओ, किसी का महबूब आया है।
---------- 
हम दिलफेक आशिक़ हर काम में कमाल कर दे;
जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे;
क्या जरुरत है जानू को लिपस्टिक लगाने की;
हम चूम-चूम के ही होंठ लाल कर दें।
---------- 
लोग इश्क करते हैं बड़े शोर के साथ;
हमने भी किया बड़े जोर के साथ;
लेकिन अब करेंगे थोड़ा गौर के साथ;
क्योंकि कल उसे देखा है किसी और के साथ।
---------- 
चप्पल छोटी हो जाए तो पाँव में नहीं आती;
वाह वाह!
चप्पल छोटी हो जाए तो पाँव में नहीं आती;
और गर्लफ्रेंड मोटी हो जाए तो बाहों में नहीं आती।
---------- 
यहाँ खुदा है, वहां खुदा है, जहाँ देखो खुदा ही खुदा है;
और
जहाँ नहीं खुदा है, वहां कल खुदेगा।
PWD
---------- 
कभी हौसला भी आजमा लेना चाहिए;
बुरे वक़्त में मुस्कुरा लेना चाहिए;
अगर सांतवे दिन भी खुजली ना मिटे तो;
आठवें दिन नहा लेना चाहिए।
---------- 
फूलों में गुलाब अच्छा लगता है;
हर चेहरे पर शबाब अच्छा लगता है;
आप हमेशा नाक से चूहे निकालते रहें;
हमें आपका यही अंदाज़ अच्छा लगता है।
---------- 
जीवन में एक चीज़ याद रखना:
आंसू पोछने वाले बहुत मिलेंगे;
पर नाक पूछने वाला कोई नहीं मिलेगा;
तो ज़ेब में हमेशा रुमाल रखना।
---------- 
छेड़ दिया इश्क मैंने आतंकियों के देश में;
दुश्मन भी प्यारा लगा हिना रबानी के वेश में।
~ Deepak Kashyap
----------
मीठी मीठी यादों को पलकों पे सजा लेना;
साथ गुज़रे लम्हों को दिल में बसा लेना;
मैं तो बरसों का प्यासा हूँ, 'फराज़';
बिजली आ जाये तो याद से मोटर चला देना।
---------- 
अर्ज़ किया है:
उसको आना होगा तो खुद ही चली आयेगी;
अरे वाह वाह;
उसको आना होगा तो खुद ही चली आयेगी;
यूं बैठकर शौचालय में जोर लगाने से क्या फायदा।
---------- 
लैला ने तो प्यार किया;
पर मजनू की किस्मत जाग गई;
मजनू ने इतने प्रेम पत्र लिखे कि;
लैला डाकिये के साथ भाग गयी।
---------- 
मोहब्बत के रास्ते में हर वक्त दर्द मिलेगा;
मेरी मानो दोस्त,
तुम इसी रास्ते पर मेडिकल स्टोर खोल लो;
मस्त चलेगा।
---------- 
आसमान में काली घटा छाई है;
आज फिर गर्लफ्रेंड से मार खाई है;
मगर मेरी गलती नहीं है, दोस्तो;
पड़ोस वाली लड़की आज मिनी स्कर्ट पहनकर आई है।
---------- 
खुशबु ने फूलों को ख़ास बनाया;
फूलों ने माली को ख़ास बनाया;
और कमबख्त मोहब्बत ने;
कितनो को देवदास बनाया!
---------- 
जब कोई इतना ख़ास बन जाये;
उसके बारे में सोचना एहसास बन जाये;
तो मांग लेना खुदा से उसे जिंदगी भर के लिए;
इससे पहले कि उसकी माँ किसी और की सास बन जाये।
---------- 
वाह गालिब तूने क्या शेर मारा है;
वाह गालिब तूने क्या शेर मारा है;
अरे यार! देख जरा शेरनी कितना रो रही है।
---------- 
काला न कहो मेरे महबूब को;
काला न कहो मेरे महबूब को;
खुदा तो तिल ही बना रहा था;
पर प्याला ही लुढ़क गया।
---------- 
गिले शिकवे दिल से न लगा लेना;
कभी रूठ जाऊं तो मना लेना;
कल का क्या पता हम हो न हो;
इसलिए जब भी मिलूं;
कभी समोसा और कभी पानी पूरी खिला देना।
----------
अय दोस्त मत कर इन हसीनाओं से मोहब्बत;
वह आँखों और बातों से वार करती हैं;
मैंने तेरी वाली की आँखों में देखा है;
वो मुझसे भी प्यार करती है।
---------- 
दिल की धड़कन रुक सी गई;
सांसें मेरी थम सी गई;
पूछा हमने दिल के डॉक्टर से तो पता चला;
कि सर्दी के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई।
---------- 
हक़ीकत थी पर ख़्वाब निकला;
दूर था पर पास निकला;
मैं इस बात को क्या कहूं;
ये ज़रदारी तो मुसर्रफ़ का भी बाप निकला।
---------- 
आंसू टपक पड़े बेरोजगार के उस एहसास पर ग़ालिब;
कि आंसू टपक पड़े बेरोजगार के उस एहसास पर ग़ालिब;
जब माँ ने कहा;
"बेटा खाली बैठा है, जा मटर ही छील ले।"
---------- 
कैसे मुमकिन था किसी और दवा से इलाज़?
अय ग़ालिब।
इश्क का रोग था;
. .
"माँ की चप्पल से ही आराम आया।"
---------- 
चाँद से रोशनी ज्यादा और सितारों से कम निकले;
वाह वाह;
चाँद से रोशनी ज्यादा और सितारों से कम निकले;
जब भी मैं तुझे देखूं मेरी हंसी एक दम निकले!
---------- 
चली जाती है आये दिन वो बियुटी पार्लोर में यूं;
उनका मकसद है, "मिशाल-ए-हूर" हो जाना;
मगर ये बात किसी भी बेगम की समझ में क्यों नहीं आती;
कि मुमकिन नहीं 'किशमिश' का फिर से 'अंगूर' हो जाना।
---------- 
तेरी दुनिया में कोई गम ना हो;
तेरी खुशियाँ कभी कम न हो;
भगवान तुझे ऐसी आइटम दे;
जो अग्निपथ की चिकनी चमेली से कम ना हो।
---------- 
अर्ज़ किया है:
खुदा बचाये हमें इन हसीनो से;
वाह वाह।
खुदा बचाये हमें इन हसीनो से;
.
. .
. . .
लेकिन इन हसीनो को कौन बचाये, हम जैसे कमीनो से।
---------- 
उम्मीदों की समां दिल में मत जलाना;
इस जहां से अलग दुनिया मत बसाना;
आज बस मूड में था तो मैसेज कर दिया;
पर रोज इंतज़ार में पलके मत बिछाना।
----------
धड़कन दिल की रुक जाती है;
सांस आकर थम जाती है;
बहुत बुरी हालत होती है, यारो;
जब गर्लफ्रेंड से शादी करने की नौबत आती है।
---------- 
बोतल छुपा दो कफ़न में मेरे;
शमशान में पिया करूंगा;
जब खुदा मांगेगा हिसाब;
तो पैग बना कर दिया करूंगा।
---------- 
अर्ज़ किया है:
मुस्कुराना तो हर लड़की की अदा है;
वाह-वाह।
उसे जो मोहब्बत समझे वो सबसे बड़ा गधा है।
---------- 
आँखों के रास्ते दिल में उतर गये;
बंदा-नवाज़, आप तो हद से गुज़र गये।
---------- 
मैंने दरवाजा खोला तो:
उसकी आँखों में आंसू, चेहरे पर हंसी थी;
सासों में आहें, दिल में बेबसी थी;
पगली ने पहले नहीं बताया कि
.
..
...
दरवाजे में उसकी ऊँगली फंसी थी।
---------- 
आपने दिल का हाल बताना छोड़ दिया;
हमने भी गहराई में जाना छोड़ दिया;
होली से पहले ही आपने;
सुबह नहाना छोड़ दिया।
शुभ सर्दी।
---------- 
शराब बनी तो मैखाने बने;
हुस्न बना तो दीवाने बने;
कुछ तो बात है आप में;
यूंही नहीं हम "पागल खाने" में।
---------- 
मेरी सांसो में जो समाया बहुत लगता है;
वही शख्स मुझे पराया भी बहुत लगता है;
उनसे मिलने की तमन्ना तो बहुत है मगर;
आने-जाने में किराया ही बहुत लगता है।
---------- 
अपना बच्चा रोये तो दिल में दर्द होता है;
और दूसरे का रोये तो सर में दर्द होता है;
अपनी बीवी रोये तो भी सर में दर्द होता है;
और दूसरे की रोये तो दिल में दर्द होता है!
---------- 
आज कल सब कहते हैं, मैं बुझा-बुझा सा रहता हूँ;
अगर जलता रहता तो कब का खाक हो जाता!
----------
आप जैसे लोग कुछ ख़ास लगते हैं;
दिल में हर वक़्त एक आस रखते हैं;
ना जाने कब हो जाये मुलाकात आपसे;
इसलिए हम एक 'डिस्प्रिन' हमेशा अपने साथ रखते हैं!
---------- 
याद तेरी विच सानु चैन कोई ना;
साड्डे उत्ते तेन्नु रहम कोई ना;
होरां नु ता दिन रात मैसेज कित्ते;
पर साड्डे लाई तेरे कोल टाइम कोई ना!
---------- 
हर कामयाबी पर आपका नाम हो;
आपके हर कदम पर दुनिया का सलाम हो;
ठंड का सामना हिम्मत से करना यार;
मैं नहीं चाहता आपको सर्दी लगे या जुखाम हो!
---------- 
सवेरा क्या हुआ, सितारों को भूल गए;
सूरज क्या आया, चाँद को भूल गये;
गुजरे क्या पल हमारे मैसेज के बिना;
आप हमें मैसेज करना भूल गये!
---------- 
हर तरफ पढ़ाई का साया है;
किताबों में सुख किसने पाया है;
लड़के तो जाते हैं, ट्यूशन लड़कियां देखने;
और सर कहते हैं, देखो बरसात में भी लड़का पढ़ने आया है!
---------- 
तू चंदर मुखी मैं सूर्यमुखी;
तू भी दुखी मैं भी दुखी;
तू छत से नीचे कूद जा;
तू भी सुखी मैं भी सुखी!
---------- 
हकीकत समझो या फसाना;
अपना समझो या बेगाना;
हमारा आपका है रिश्ता पुराना;
इसलिये फर्ज था आपको बताना;
ठंड शुरू हो गयी है;
कृपया रोज मत नहाना!
---------- 
ना इश्क कर मेरे यार, यह लड़कियां बहुत सताती हैं;
न करना इन पर एतबार, यह खर्चा बहुत करवाती हैं;
रिचार्ज तुम करवा के देतो हो;
और नंबर मेरा लगाती हैं!
---------- 
बर्बाद करने के और भी तरीके थे, फराज;
जाने "मार्क जुकरब (Mark Zuckerberg) को फेसबुक (Facebook) का ख्याल क्यों आ़या!
---------- 
कमाल तेरे नखरे, कमाल का तेरा स्टाइल है;
बात करने की तमीज नहीं, और हाथ में मोबाइल है!
----------
डाली ने डाली पर नज़र डाली;
किसी ने इस पर डाली;
किसी ने उस पर डाली;
हमने जिसपर नज़र डाली;
उसके बाप ने उसकी शादी कहीं और कर डाली!
---------- 
तेरे इश्क ने सरकारी दफ्तर बना दिया दिल को;
ना कोई काम करता है, ना कोई बात सुनता है!
---------- 
हर गम को पाला नही जाता;
काँच की चीज़ों को उछाला नही जाता;
कुछ करना है तो मेहनत करो;
हर बात को 'आल इज वेल' कहकर टाला नही जाता!
---------- 
बेवफा तुम हो तो वफ़ादार हम भी नही;
बेशरम तुम हो तो शरमदार हम भी नही;
प्यार के इस मोड़ पर आकर कहते हो शादीशुदा हो;
तो कुंवारे हम भी नहीं!
---------- 
ख्वाहिशों को जेब में रखकर निकला कीजिये, जनाब;
खर्चा बहुत होता है, मंजिलों को पाने में!
---------- 
पंख लगाकर मेरे ख्वाबों को ले जाओ कहीं दूर;
नालायक रात में आते हैं, और सोने भी नहीं देते!
---------- 
बेवफा तुम हो तो वफादार हम भी नहीं;
बेशर्म तुम हो तो शर्म दार हम भी नहीं;
प्यार के इस मोड़ पर आकर कहती हो शादी शुदा हो?
तो कुंवारे हम भी नहीं!
---------- 
उसूल-ए-वफ़ा:
ये मोहब्बत नहीं, उसूल-ए-वफ़ा है;
ऐ दोस्त, हम जान तो दे देंगे मगर अपनी जान का नंबर नहीं देंगे!
---------- 
सोचता हूँ कंजूसों का एक डिपार्टमेंट बनाऊ;
चेयरमैन की कुर्सी पर आपको बिठाऊ;
दुनिया से आप को चंदा दिलवाऊ;
ताकि आप से कुछ मैसेज्स तो ले पाऊ!
---------- 
तुम्हारा हर मैसेज मेरे रोम रोम में गुदगुदी पैदा करता है;
जब भी मैं पढता हूं, मेरा दिल जोर से धड़कता है;
लेकिन क्या करें, कसूर तुम्हारा नहीं है;
यह मोबाइल ही 'वाईबरेशन मोड' पर चलता है!
----------
देना है ये दिल किसी को दान में, यारो;
है कोई मस्त माल ध्यान में, तो बताओ!
---------- 
वो भी क्या दिन थे, जब हम हसीनों से गले मिला करते थे;
यह उन दिनों कि बात है, जब हम दो साल के हुआ करते थे!
---------- 
फ़ोन के रिश्ते भी अजीब होते हैं;
बैलेंस रखकर भी लोग गरीब होते हैं;
खुद तो मैसेज करते नहीं;
मुफ्त के मैसेज पढ़ने के शौक़ीन होते हैं!
---------- 
उसने हाथों पर मेहंदी लगा रखी थी;
हमने भी अपनी बारात सजा रखी थी;
क्यूंकि हमें मालूम था वो बेवफा निकलेगी;
इसलिए हमने भी उसकी सहेली पटा रखी थी!
---------- 
इतने कमज़ोर हुए तेरी जुदाई में;
जर्रा गौर फर्रमाँइए:
इतने कमज़ोर हुए तेरी जुदाई में;
कि चींटी भी अब खींच ले जाती है 'चारपाई' से!
---------- 
दिल में आंसुओं के मेले हैं;
तुम बिन, हम बहुत अकेले हैं;
सब कुछ छोड़कर, "एस एम् एस" तुम्हें करते हैं;
देखो हम कितने वेल्ले हैं!
---------- 
वो मेरी किस्मत मेरी तकदीर हो गयी;
हमने उनकी याद में इतने ख़त लिखे कि;
वह 'रद्दी' बेचकर ही अमीर हो गयी!
---------- 
राम युग में दूध मिला, कृषण युग में घी;
इस युग में दारू मिली, खूब दबाकर पी!
---------- 
मौसम बड़ा बेहाल है;
सुर है, न ताल है;
मैसेज बॉक्स भी कंगाल है;
क्या आपकी मैसेज फैक्ट्री में भी हड़ताल है?
---------- 
होठों को छुआ उसने तो, एहसास अब तक है;
आंखे नम हुई तो सांसो में आग अब तक है;
वक़्त गुजर गया, पर उसकी याद नही गई;
क्या कहूं, "हरी मिर्च का स्वाद अब तक है!"
----------
कभी खुली हवा मे घुमते थे;
अब "ए. सी." की आदत लगायी है!
धुप हम्से सहन नही होती;
हर कोई देता यही दुहाई है!
---------- 
तुमसा कोई दूसरा जमीन पर हुआ;
तो रब से शिकायत होगी!
एक का तो झेला नहीं जाता;
दूसरा आ गया तो क्या हालत होगी!
---------- 
जब होता है तुम्हारा दीदार, दिल धड़कता है बार-बार;
आदत से मजबूर हो तुम, ना जाने कब माँग लो उधार!
---------- 
ऐसी बाणी बोलियें की सबसे झगड़ा होए;
पर उससे झगड़ा न करिये, जो अपने से तगड़ा होए!
---------- 
दिली तमन्ना है कि मैं भी अपनी पलकों पे बैठाऊँ तुझको;
बस तू अपना वजन कम करले, तो मेरा काम आसान हो जाए!
---------- 
तारीफ के काबिल हम कहाँ;
चर्चा तो आपकी चलती है!
सब कुछ तो है आपके पास;
बस सींग और पूंछ की कमी खलती है!
---------- 
सोचा था हर मोड़ पे "एस ऍम एस" करेंगे आपको;
पर कमबख्त पूरी सड़क सीधी थी, कोई मोड़ ही नहीं आया!
---------- 
दिली तमन्ना है कि मैं भी अपनी पलकों पे बैठाऊँ तुझको;
बस तू अपना वजन कम करले, तो मेरा काम आसान हो जाए!
---------- 
भूल गए या, भुलाना चाहते हो;
दूर कर दिया, या करना चाहते हो;
अजमा लिया, या अजमाना चाहते हो;
मेसेज कर रहे हो, या अभी और पैसे बचाना चाहते हो?
---------- 
निकले जो दुनिया की भीड़ में तो ये जाना है;
निकले जो दुनिया की भीड़ में तो ये जाना है;
दुखी है हर वो शख्स, जिसे आज फिर काम पर जाना है!
----------
बस इतना ही कहा था मैंने कि तेरे प्यार में बरसों से प्यासा हूँ सनम;
और उसने पानी का पाइप मुंह में डालकर मोटर चला दी!
---------- 
बोतल छुपा देना कफ़न में मेरे;
शमशान में बैठ कर पिया करूँगा;
खुदा मांगेगा जब हिसाब मुझसे;
एक एक पैग बना कर दिया करूँगा!
---------- 
हम समझते कम हैं, समझाते ज्यादा हैं;
इसलिए सुलझते कम हैं, उलझते ज्यादा हैं!
---------- 
हम हो गए तुम्हारे, तुम्हें सोचने के बाद;
अब न देखेंगे किसी को, तुम्हें देखने के बाद;
दुनिया छोड़ देंगे, तुम्हें छोड़ने के बाद;
खुदा! माफ़ करे इतने झूठ बोलने के बाद!
---------- 
हर रात हम तुम्हें याद किया करते है;
सितारों में तुम्हें देखा करते है;
लेकिन हमारे ख्वाबों में मत आना तुम;
क्योंकि हम भूत से डरा करते है!
---------- 
कोई आँखों से बात कर लेता है;
कोई आँखों में मुलाक़ात कर लेता है;
बड़ा मुश्किल होता है जवाब देना;
जब कोई इंग्लिश में बात कर लेता है!
---------- 
बेकार है वो लोग जो अपने लवर को मिस किया करते हैं;
अरे मिस करना है तो मच्छर को करो;
जो अपनी जान पर खेल कर आपको किस्स किया करते हैं!
---------- 
बहुत उदास है कोई तेरे जाने से;
हो सके तो लौट आ किसी बहाने से;
तू लाख खफा सही पर एक बार तो देख;
कितना कचरा जमा है तेरे न आने से!
---------- 
हमने धूप समझी वो छाया निकली;
हमने गाय समझी वो भैंस निकली!
बेडा गर्क हो इन ब्यूटी पार्लरों का;
हमने तो उसे लडकी समझा था;
लेकिन वो तो लड़की की माँ निकली!
---------- 
सारी रात इसी कश्मकश में गुज़र जाती है कि;
ये रजाई में हवा कहाँ से घुस रही है!
----------
झटका कुछ इस तरह दिया सनम ने, अपनी जुल्फों को;
इकठ्ठे 7 जूएँ मेरे दामन में आ गिरे!
---------- 
आशिक पागल हो जाते हैं प्यार में;
बाकी कसर पूरी हो जाती है इंतज़ार में;
मगर ये दिलरुबा नहीं समझती;
वो तो गोल गप्पे और पपड़ी खाती फिरती है बाज़ार में!
---------- 
आसमान जितना नीला है;
सूरजमुखी जितना पिला है;
पानी जितना गीला है;
आपका स्क्रू उतना ही ढीला है!
---------- 
ज़िन्दगी है तो ख्वाब है;
ख्वाब है तो मंजिले है;
मंजिले है तो रास्ते है;
रास्ते है तो मुश्किलें;
हिम्मत है तो, एस एम् एस करो!
---------- 
कभी-कभी मेरे दिल में ख्याल आता है,
कभी-कभी मेरे दिल में ख्याल आता है,
कि क्यों कभी-कभी मेरे दिल में ख्याल आता है?
---------- 
मुझसे ये जुदाई का गम पिया नहीं जाता;
कोई दो गिलास व्हिस्की के ही पिला दो बर्फ डाल के!
---------- 
प्यार हुआ इकरार हुआ है;
प्यार से फिर क्यों डरता है दिल;
क्यों न डरे दिल?
.
..
...
क्योंकि आजकल के प्यार से बढ़ता है, सिर्फ मोबाइल और रेस्टौरेंट का बिल!
---------- 
उधर आप मजबूर बैठे हैं;
इधर हम खामोश बैठे है;
बात हो तो कैसे हो;
जब दोनों तरफ दो कंजूस बैठे हैं!
---------- 
जब बारिश होती है, तुम याद आते हो!
जब काली घटा छाए, तुम याद आते हो!
जब भीगते हैं हम, तो तुम याद आते हो!
बताओ, तुम मेरी छतरी कब वापिस करोगे!
---------- 
फूल बिना, खुशबू बेकार;
चाँद बिना, चांदनी बेकार;
प्यार बिना, ज़िन्दगी बेकार;
मेरे एस एम् एस बिना, तुम्हारा मोबाइल बेकार!
----------
कितना बेबस है इंसान, किस्मत के आगे!
हर सपना टूट जाता है हकीकत के आगे!
जिसने कभी हाथ न फेलाया हो, 
वो भी हाथ फेलता है `गोलगप्पे वाले` के आगे!
---------- 
एक आप हो कितने अच्छे हो!
एक आप हो कि कितने सुंदर हो!
एक आप हो कि कितने सच्चे हो!
और एक हम है कि झूठ पर झूठ बोले जा रहे है!
---------- 
शाम होते ही ये दिल उदास होता है!
टूटे ख्वाबों के सिवा कुछ न पास होता है!
तुम्हरी याद ऐसे वक़्त बहुत आती है!
जब कोई बन्दर आस-पास होता है!
---------- 
शादी करनी थी पर किस्मत खुली नहीं!
ताज बनाना था पर मुमताज मिली नहीं!
एक दिन किस्मत खुली और शादी हो गई!
अब ताज बनाना है पर यह मुमताज मरती ही नहीं!